ALLAHABAD: पिछले दिनों मऊआइमा थाने के किरांव गांव की महिला और उसकी बेटी की संदिग्ध दशा में मौत हो गई थी. मामले में रविवार को जिला प्रशासन और पुलिस अधिकारियो के सामने कब्र खोदवाकर दोनों की लाश निकाली गई. इसके बाद शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया. बता दें कि मृतका की छोटी बहन ने मामले में पिता, सौतेली मां और एक अन्य के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है.

पुलिस को सूचना दिए बिना दफनाया

बता दें कि मऊआइमा थाना क्षेत्र के किरांव गांव में फरवरी महीने में मायके में रह रही सना बानो पत्नी सद्दाम हुसैन व पांच साल की बेटी सानिया की संदिग्ध दशा में आग लगने के कारण मौत हो गई थी. मौत के बाद पिता मो. यूसुफ ने पुलिस को घटना की जानकारी दिए बिना ही दोनों की लाश दफना दी थी. सना की मौत की खबर रिश्तेदारों के जरिए सगी मां आमिना बेगम व छोटी बहन सबीना तक पहुंची. घटना की जानकारी के बाद दोनों ने थाने पहुंचकर लिखित सूचना दी. इसके बाद पुलिस ने पिता मो. युसुफ, सौतेली मां आसमा बेगम व एक अन्य को नामजद किया.

पोस्टमार्टम के लिए भेजी लाश

मामले की तफ्तीश के दौरान ही रविवार को एसडीएम फूलपुर सत्येंद्र नाथ, तहसीलदार अभिनव पाठक व इंस्पेक्टर मऊआइमा लक्ष्मण पर्वत पुलिस फोर्स के साथ गांव पहुंचे. इसके बाद लाश को निकलवाकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया. आसपास के लोगों ने पुलिस को बताया कि सना का अपनी सौतेली मां से अक्सर किसी न किसी बात को लेकर झगड़ा होता था. इंस्पेक्टर का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी. फिलहाल सच्चाई का पता लगाया जा रहा है.

Crime News inextlive from Crime News Desk