Subscribe To Inextlive

उत्‍तर को दक्षिण से मिलाता 'गोकर्ण गांव', यहीं गाय के कान से बाहर आए थे भगवान शिव शंकर

कहते हैं कि नदी के दो किनारे कभी आपस में मिलते नहीं हैं। इसी तरह दो दिशाएं भी कभी आपस में मिलती नहीं हैं, लेकिन अनोखा है हमारा भारत देश जहां ऐसी चीजें दिखायी देती हैं, जिन पर विश्‍वास करना आसान नहीं होगा। भारत में कर्नाटक राज्‍य के सुदूर छोर पर बसा है एक छोटा सा गांव 'गोकर्ण'। नाम से ही जाहिर है कि गाय का कान। 'गोकर्ण' को लेकर यूं तो कई धार्मिक मान्‍यताएं है लेकिन उनमें से एक प्रचलित पौराणिक मान्‍यता यह है कि सृष्‍टि के निर्माण के दौरान भगवान शंकर ने गाय के कान से यहीं पर जन्‍म लिया था। इसी वजह से इस जगह को नाम मिला गोकर्ण। गोकर्ण में देखने को मिलती हैं कई अनोखी चीजें, आइए देखें।

Publish Date: Tue 10-Jan-2017 16:01:04

Most Popular

Must Watch