गर्व का क्षण
शुक्रवार को वित्त वर्ष 2017-18 की पहली तिमाही के नतीजों की घोषणा करने पहुंचे सिक्का ने एकबारगी सब को हैरत में डाल दिया। वजह थी, ड्राइवरलेस कार्ट। वह इसमें सवार होकर आए, जिसे कंपनी के इंजीनियरों ने तैयार किया है। सिक्का ने इसके लिए इंजीनियरिंग टीम को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, 'आपके असाधारण जुनून, लीडरशिप और इनोवेशन के लिए शुक्रिया। हमें आप पर गर्व है।' सिक्का के मुताबिक, ऐसे वाहन विकसित करने का मकसद आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसी उभरती टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में कर्मचारियों को प्रशिक्षित करना है।



गूगल, एप्पल से होड़
पिछले कुछ वर्षों से दुनियाभर में ड्राइवरलेस यानी ऑटोनोमस वाहनों पर काम चल रहा है। गूगल, उबर और एप्पल की ओर से ऐसे वाहनों के टेस्टिंग की खबरें आती रही हैं। इस मामले में काफी सफलता हाथ लगी है। लेकिन हर चरण के टेस्ट में कोई न कोई नई परेशानी देखने को मिली है। यही वजह है कि ऐसे वाहन  अब तक सड़क पर नहीं उतारे जा सके हैं।

ऐसे वाहनों की खूबी
सेंसर से लैस इन ड्राइवरलेस वाहनों में अपने आसपास के माहौल को समझ लेने की क्षमता होती है। ये ह्यूमन इनपुट के बिना नेविगेट करने में सक्षम हैं। उन्नत नियंत्रण प्रणाली के जरिये ये वाहन रास्तों के साथ तमाम बाधाओं और सड़क के संकेतों की पहचान करते हैं।

Technology News inextlive from Technology News Desk

Technology News inextlive from Technology News Desk