- गोरखपुर महोत्सव में शामिल होने पहुंचे रवि किशन ने दैनिक जागरण आई नेक्स्ट से की दिल की बात

- भोजपुरी का परचम लहराया, बढ़ा रहे रोजगार के अवसर

i special

arunkumar@inext.co.in

GORAKHPUR: गोरखपुर महोत्सव में शिरकत करने पहुंचे फिल्म एक्टर रवि किशन ने कहा कि बाबा की कृपा हुई तो जरूर गोरखपुर के लोगों की सेवा करूंगा. भाजपा हाईकमान के हर निर्देश का पालन करूंगा. आदेश मिलने पर यहां की जनता के लिए आत्मा लगा दूंगा. शुक्रवार को एक होटल में रवि किशन दैनिक जागरण आई नेक्स्ट को इंटरव्यू दे रहे थे. उन्होंने कहा कि हम पूर्वाचल के हैं. गोरखपुर से हमारा दिली लगाव है. आज भोजपुरी का डंका पूरे विश्व में बज रहा है. महराज जी से मिलकर फिल्म सिटी के संबंध में प्रपोजल दिया गया है. फिल्म सिटी बनी तो यूपी में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे. भोजपुरी ही मेरी पहचान है. इसलिए यहां के लोगों के लिए काम करना मेरी जिम्मेदारी बनती है. पूर्वाचल के लोगों को आगे भी कभी निराश नहीं होने दूंगा.

गोरक्षनाथ की धरती, इस पर सबकी नजर

जौनपुर के मूल निवासी फिल्म एक्टर रवि किशन ने बताया कि वह बचपन में रामलीला में सीता मैया का रोल प्ले करते थे. रामलीला खेलने पर पिता ने पीट दिया था. तब मां ने 500 रुपए देकर मुंबई की राह पकड़ा दी थी. 15-16 साल तक संघर्ष करने के बाद यह मुकाम मिला. करीब पांच सौ फिल्में करने के बाद आज अलग पहचान, नाम और शोहरत है. गोरखपुर लोकसभा से उप चुनाव के संबंध में कहा कि यह गोरक्षनाथ की धरती है. पूरे हिंदुस्तान की नजर इस पर है. इसलिए बाबा का जो आदेश होगा, उसका अनुपालन करेंगे. गोरखपुर से उनका पुराना लगाव है. यहां पर कई फिल्मों की शूटिंग कर चुके हैं. 2004 में उनकी फिल्म की शुरुआत गोरखनाथ मंदिर से हुई थी.

स्टूडियो से निकलेंगे कई रवि किशन

रवि किशन ने कहा कि सीएम महंत योगी आदित्यनाथ यूपी को नया मुकाम देंगे. गुरु गोरक्षनाथ की कृपा उन पर है. वह बहुत लंबे समय तक यूपी के सीएम रहेंगे. यहां पर फिल्मों का विकास होगा. उद्योग के रूप में फिल्म सिटी पनपेगी. यूपी में फिल्म स्टूडियो बनने से कई रवि किशन पैदा होंगे. फिल्म सिटी बनाने के लिए महराज जी को प्रोजेक्ट दिया गया है. इसके लिए सौ से डेढ़ सौ एकड़ भूमि की जरूरत है. एयरपोर्ट के नजदीक जहां भूमि मिल जाएगी. वहीं पर फिल्म सिटी बन जाएगी. रवि किशन ने कहा कि संघर्ष के दिनों में उनको अपने नाम के आगे से शुक्ला हटाना पड़ा था. इसलिए चाहते हैं कि जातिवाद पूरी तरह से खत्म हो जाए. रवि ने भोजपुरी को आठवीं अनुसूची में शामिल करने की मांग की. यह भी कहा कि अच्छी कहानी के अभाव में भोजपुरी फिल्में असली मुकाम नहीं पा रहीं. रवि ने बताया कि शुक्रवार को उनकी फिल्म बॉक्सर रिलीज हो रही है. अनुराग कश्यप की यह पहली फिल्म है जिसमें अपशब्द नहीं हैं.