RANCHI: रांची एसएसपी कुलदीप द्विवेदी ने राजधानी के पुलिसकर्मियों को हेलमेट पहनने का निर्देश दिया है. यह आदेश वैसे पुलिसकर्मियों के लिए हैं, जो ड्यूटी पर जाने से पहले सिर में हेलमेट नहीं लगाते हैं. वे बिना हेलमेट के ही बाइक चलाते हैं. एसएसपी ने कहा कि यातायात नियम सबके लिए लागू है. ऐसे में कानून की रक्षा करनेवाले ही कानून तोड़ेंगे तो आम लोगों से हम क्या अपेक्षा रखेंगे? उन्होंने कहा कि बगैर हेलमेट पकड़ाए जाने पर न सिर्फ जुर्माना लगेगा, बल्कि सस्पेंशन की कार्रवाई भी होगी. गौरतलब हो कि दैनिक जागरण आई नेक्स्ट में पुलिसकर्मियों द्वारा हेलमेट नहीं पहनने पर एक पिक्टोरियल न्यूज छपी थी. इसके बाद एसएसपी ने आदेश जारी किया है.

आठ नाबालिग धराए

इधर, यातायात पुलिस ने गुरुवार को भी चेकिंग अभियान चलाया. अभियान के तहत कुल भ्ख्9 वाहनों से क् लाख ख्9 हजार फ्00 रुपये का जुर्माना वसूला गया है. पुलिसकर्मियों ने बिना हेलमेट में कुल फ्09 लोगों को पकड़ा. वहीं, आठ नाबालिग भी मोटरसाइकिल चलाते पकड़े गए. जिन्हें बाल मित्र थाना भेजा गया और उनके अभिभावक को बुलाकर बांड भरवाकर व शपथ दिलाकर छोड़ा गया.

मॉर्निग वॉकरों के साथ मिसबिहेव (बॉक्स)

मार्निग वाकरों के साथ एसडीओ ने वाहन चेकिंग के नाम पर अभद्र व्यवहार किया है. एक भुक्तभोगी ने यह आरोप लगाया है. उन्होंने झारखंड हाई कोर्ट से इस मामले में संज्ञान लेने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि गुरुवार की सुबह म्.ख्0 बजे वह प्रतिदिन की भांति अपनी होंडा स्कूटी से मोरहाबादी मैदान से मार्निग वाक कर लौट रहे थे. इसी बीच कांके रोड स्थित जज कॉलोनी के पास एसडीओ अपने कुछ अंगरक्षकों के साथ गाडि़यों की जांच कर रहे थे. मैं जब वहां से गुजरा, तो उन्होंने मेरी गाड़ी को रुकने का इशारा किया, तो गाड़ी रोक दी. इसकेबाद स्कूटी की चाभी छीनकर अपने पास रख लिया और कहा कि गवर्नर हाउस की दीवार की ओर मुंह करके खड़े हो जाओ, नहीं तो सरकारी काम में बाधा डालने के आरोप में जेल में भेज देंगे.