अंटार्टिका में टूटा है लंदन से 4 गुना बड़ा आइसबर्ग, वीडियो देखकर दुनिया हिली जा रही है!

By: Chandra Mohan Mishra | Publish Date: Thu 15-Feb-2018 07:27:39   |  Modified Date: Thu 15-Feb-2018 07:27:41
A- A+
अंटार्टिका में टूटा है लंदन से 4 गुना बड़ा आइसबर्ग, वीडियो देखकर दुनिया हिली जा रही है!
यह नजारा किसी फिल्‍मी सीन जैसा शॉकिंग और डरावना था, जब अंटार्टिका में लंदन शहर से चार गुना बड़े आकार का 623 फुट मोटा आइसबर्ग टूटकर समंदर में बह गया। भूकंप से भी बड़ी तबाही जैसे इस मंजर का वीडियो जिसने भी देखा, वो डर गया। ग्‍लोबल वॉर्मिंग के खराब प्रभाव के कारण इतना विशालकाय आइसबर्ग टूटने के परिणाम तो खतरनाक हो ही सकते हैं, फिलहाल इस टूटन के बाद के वीडियो ने दुनिया को चौंका दिया है। नासा समेत ब्रिटिश अंटार्टिंक सर्वे ने धरती की इस सबसे बड़ी घटना का वीडियो जारी किया है।

कब टूटा ये सबसे बड़ा आइसबर्ग

वैसे तो यह घटना साल 2017 की गर्मियों में हुई थी, लेकिन इसका एनालिसेस वीडियो अब जारी किया गया है। अंटार्टिका में Larsen-C ice सेल्‍फ से अब तक का सबसे बड़ा Iceberg यानि हिमखंड टूटकर बिखर गया है। इस आइसबर्ग का साइज अमेरिकी राज्‍य डेलवेयर के बराबर है। यानि कि इस आइसबर्ग में 10 मेड्रिड शहर समा सकते हैं। 6000 वर्ग किलोमीटर आकार और करीब 623 फीट मोटाई वाला आइसबर्ग A-68 टूटने से अंटार्टिका का पूरा नक्‍शा ही बदल गया है। इस आइसबर्ग का सिर्फ 100 फीट हिस्‍सा ही पानी के बाहर दिखाई देता था, बाकी पानी के भीतर डूबा था। कैमरे पर रिकॉर्ड किया गया यह दुनिया का पहला इतना बड़ा आइसबर्ग डैमेज है। इस आइसबर्ग के टूटने से अंटार्टिका के करीब 6 हजार वर्ग किमी एरिया के आइसवॉटर पर 1 लाख 20 हजार सालों में पहली बार धूप पड़ रही है, क्योंकि इससे पहले वो बर्फ की मोटी सतह से पूरी तरह ढका हुआ था।


सेल्फ ड्राइविंग कार भूल जाइए अब अब तो सेल्फ ड्राइविंग चप्पलें लेकर आ गई है ये कंपनी

Antarctic, science news, science news in hindi, Antarctic Iceberg, Antarctic iceberg break, Antarctic iceberg break off, Antarctic iceberg break video, Antarctica, Antarctica shocking video, world biggest iceberg break off, biggest iceberg video

 

कुत्ते आखिर क्यों भागते हैं कारों के पीछे? जवाब जानकर उन पर गुस्‍सा नहीं आएगा

 

21 फरवरी से शुरु होगा अंटार्टिका में अनोखा मिशन

इतने विशालकाय आइसबर्ग के टूटने के बाद से एक तरफ तो वैज्ञानिक और पर्यावरणविद चिंता में हैं, लेकिन दूसरी ओर British Antarctic Survey के वैज्ञानिक इस बात से काफी उत्‍साहित हैं कि 21 फरवरी से शुरु हो रहे उनके मिशन के दौरान उन्‍हें बहुत कुछ नया देखने का मौका मिलेगा, जो अब तक किसी को नहीं मिला। करीब सवा लाख सालों से जो आइसवॉटर में आइसबर्ग के नीचे छिपा था, अब वैज्ञानिकों को पहली बार उस पानी में जाने का मौका मिलेगा। हो सकता है कि माइनस 9 डिग्री तापमान वाले इस आइसवॉटर में वैज्ञानिकों को ऐसे अनोखे जीव जंतु देखने को मिलें, जो अब तक दुनिया में किसी ने न देखे हों।

 

 

 

इंसानों को छोड़ ये कंपनी फेस रिकग्निशन टेक्‍नोलॉजी से गाय-भैंसों की जिंदगी संवार रही है!

International News inextlive from World News Desk

खबरें फटाफट