आपके चहेते स्टार खिलाड़ी और उनके अनोखे टोटके

By: Inextlive | Publish Date: Tue 18-Jul-2017 04:36:01
A- A+
आपके चहेते स्टार खिलाड़ी और उनके अनोखे टोटके
खेल के मैदान पर करिश्माई प्रदर्शन करने वाले कुछ खिलाड़ी न केवल अंधविश्वास करते हैं बल्कि दिलचस्प टोटके भी आज़माते हैं। विम्बलडन का खुमार लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है। टेनिस कोर्ट से कई नामी खिलाड़ियों ने अपने अंधविश्वासों की झलक दिखाई है। हालांकि सिर्फ़ टेनिस स्टार ही नहीं हैं जो अपने 'लकी' अंदाज़ के साथ नज़र आते हैं। ऐसे ही कुछ खिलाड़ी और उनके अंधविश्वासों पर आइए डालते हैं एक नज़र-

राफेल नडाल

नडाल टेनिस कोर्ट के बाहर और खेल के दौरान अपनी आदतों के लिए काफ़ी चर्चित हैं।

उनमें से सबसे ज़्यादा चर्चित है- जब वह अपनी पैंट को पीछे से नीचे की ओर खींचते हैं, अपनी टीशर्ट को कंधों के पास मोड़ते हैं और फिर अपना मुंह पोछते हैं।

हर सर्व से पहले वो यह काम करते हैं। हालांकि विम्बलडन 2017 में नडाल का ये अंधविश्वास काम नहीं आया और वह क्वॉर्टर फ़ाइनल से पहले ही बाहर हो गए।

सेरेना विलियम्स


 

साल 2016 की विम्बलडन चैंपियन सेरेना विलियम्स भी बहुत अंधविश्वासी मानी जाती हैं। सेरेना पूरे टूर्नामेंट में एक ही जोड़ी मोजे पहनती हैं।

सेरेना अपने 'लकी' मोजे हर मैच में पहनती हैं और उन्हें तब तक नहीं बदलतीं या नहीं धोतीं, जब तक पूरा टूर्नामेंट ख़त्म नहीं हो जाता।

उनके मोजों की हालत थोड़ी ख़राब हो जाती होगी लेकिन सेरेना का लगता होगा कि ये अंधविश्वास उनके लिए मददगार साबित होगा।

नोवाक जोकोविक


 

जोकोविक टेनिस कोर्ट में अपने अंदाज़ के लिए चर्चित हैं। बॉल सर्व करने से पहले वह उसे कई बार उछालते हैं। कई बार वह ऐसा 30 बार तक करते हैं।

इसे जोकोविक का अंधविश्वास माना जाता है। हालांकि वह कहते हैं इसके ज़रिए उनका फ़ोकस बढ़ता है।

जोकोविक कहते हैं, 'महत्वपूर्ण मौक़ों पर, मैं ज़्यादा फ़ोकस करने की कोशिश करता हूं। जैसे-जैसे बॉल उछलती है, फ़ोकस बढ़ता है। मैं किसी को परेशान करने के लिए ऐसा नहीं करता, सिर्फ़ फोकस करना चाहता हूं।'

गोरन इवानिसेविक


 

विम्बलडन के चैंपियंस में गोरन सबसे ज़्यादा लोकप्रिय खिलाड़ी रहे हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि कोर्ट में वह लोगों का ख़ूब मनोरंजन करते थे।

साल 2004 में ख़िताब जीतने के बाद उन्होंने कहा था कि ऐसा वह इसलिए भी कर पाए क्योंकि हर मैच के बाद उन्होंने टेलीट्यूबीज़ देखकर खुद को रिलैक्स किया।

Wimbledon 2017: जिसे खुद फेडरर ने मजाक समझा, वही कर दिखाया

क्रिस्टियानो रोनाल्डो

 

वायने रूनी की किताब के मुताबिक, मैनचेस्टर यूनाइटेड की तरफ़ से खेलते हुए रोनाल्डो हर मैच से पहले काफ़ी नुस्ख़े अपनाते थे। लेकिन उनमें से एक बेहद अलग था।

हर मैच से पहले रोनाल्डो शीशे के सामने खड़े होकर खुद को काफ़ी देर तक घूरते थे। ऐसा वह ख़ुद को तैयार करने के लिए करते थे।

ये आदमी रोजाना उड़कर पहुंचता है ऑफिस, कोई शक...

माइकल फेल्प्स


 

ओलंपिक में सबसे ज़्यादा मेडल जीतने की लिस्ट में माइकल फ़ेल्प्स सबसे ऊपर हैं जिनमें से 23 गोल्ड मेडल हैं। क्या इसके पीछे कोई सीक्रेट है?

रेस से पहले वह पूल के किनारे हेडफोन लगाकर माइकल जैक्सन के गाने सुनते हैं। फिर वह हेडफोन निकालकर रखते हैं और अपनी बाहों को तीन बार घुमाते हैं।

वह ऐसा न तो दो बार करते न चार बार। हमेशा तीन बार बाहों को घुमाने के बाद वह रुक जाते हैं। इससे उन्हें वॉर्मअप होने में भी मदद मिलती है।


कोई स्‍केटर तो कोई फैशन मॉडल, मिलिए डोनाल्‍ड ट्रंप की पत्‍नियों और प्रेमिकाओं से

Sports News inextlive from Sports News Desk