पहाड़ पिघला सकता है यूथ

By: Inextlive | Inextlive Editorial Team

Publish Date: Wed 15-Jan-2014 01:04:31

GORAKHPUR : यूथ चाहे तो अपनी ऊर्जा से बड़े पहाड़ को भी पिघला सकता है. बस जरूरत है तो युवाओं को अपनी शक्ति की पहचान कर उसे सही दिशा में प्रयोग करने की. यह बातें डीडीयू यूनिवर्सिटी में ऑर्गनाइज्ड हुई स्पीच कॉम्प्टीशन में बीए सेकेंड इयर के स्टूडेंट आकाश वर्मा ने कही.


पहाड़ पिघला सकता है यूथ

एनएसएस की ओर से आयोजित कॉम्प्टीशन में कई स्टूडेंट्स ने पार्टिसिपेट किया, जिसमें बीए सेकेंड इयर के स्टूडेंट आदित्य त्रिपाठी ने बाजी मारी. आकाश वर्मा और शशिकांत पांडेय को सेकेंड प्राइज मिला, जबकि बीए फस्र्ट इयर के देवेंद्र नाथ त्रिपाठी थर्ड पोजीशन पर रहे. प्रोग्राम कॉर्डिनेटर डॉ. अजय कुमार शुक्ला ने बताया कि युवा सप्ताह के तहत आयोजित स्पीच कॉम्प्टीशन का सब्जेक्ट 'वर्तमान परिदृश्य में स्वामी विवेकानंद के विचारों की प्रासंगिकता' था.

स्‍मार्टफोन पर ताजा खबरों के लिए डाउनलोड करें inextlive का मोबाइल ऐप
comments powered by Disqus