उत्‍सुकता ने बनाया व्‍यवसाई
अमेरिका के कैलि‍फॉर्निया में रहने वाले 13 वर्षीय शुभम बनर्जी की उत्‍सुकता ने उन्‍हें इतनी छोटी उम्र में एक व्‍यवसाई बना दिया है. दरअसल शुभम ने पिछले साल अपने पिता से पूछा था कि आखिर अंधे लोग कैसे पढ़ पाते हैं. तो इसके जवाब में शुभम के पिता ने कहा कि जाओ गूगल पर सर्च करो. लेकिन जब शुभम ने गूगल पर ब्रेल प्रिंटरों के दामों देखे तो शुभम के होश उड़ गए. इसके बाद शुभम ने एक सस्‍ता ब्रेल प्रिंटर बनाने की ठान ली और इससे संबंधित जानकारि‍यां जुटाना शुरू कर दिया. इसके बाद शुभम ने एक किफायती ब्रेल प्रिंटर बनाकर अपने स्‍कूल के साइंस फेयर में पेश किया. इसके साथ ही अपनी कंपनी लांच करने की ओर कदम बढ़ाना शुरू कर दिया.

इंटेल ने किया निवेश
शुभम की कंपनी 'ब्रेगो लैब्‍स' में जानीमानी कंपनी इंटेल कॉर्प ने निवेश किया है. कंपनी का नाम 'ब्रेगो लैब्‍स' ब्रेल और लेगो शब्द के मिश्रण से बनाया गया है. शुभम का सपना है कि उनकी कंपनी लगभग 22 हजार रुपये मूल्‍य का ब्रेल प्रिंटर बना सके जिससे नेत्रहीनों के पास उनका खुद का प्रिंटर हो. गौरतलब है कि इस समय एक ब्रेल प्रिंटर की कीमत सवा लाख रुपये होती है और यह प्रिंटर नौ किलों तक भारी है.

Hindi News from Business News Desk

Business News inextlive from Business News Desk