क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ: जेल में बंद कुख्यात शराब माफिया सिंघानिया के ठिकाने पर उत्पाद विभाग और पुलिस की छापेमारी हुई है. अवैध शराब के अड्डे पर अचानक हुई छापेमारी में 15 लाख से अधिक की अवैध शराब बरामद की गई, जिसे उत्पाद विभाग और पुलिस की टीम ने मिलकर नष्ट कर दिया.

नामकुम पुलिस की रेड

उत्पाद विभाग को सूचना मिली थी कि नामकुम में एक बार फिर से बड़े पैमाने पर अवैध शराब का निर्माण हो रहा है. इसी सूचना पर नामकुम थाने की टीम के साथ उत्पाद विभाग की टीम छापेमारी के लिए निकली. जैसे ही शराब की भट्ठी के पास पुलिस की टीम पहुंची. जंगल और पथरीले रास्तों का फायदा उठाकर अवैध शराब के कारोबारी फरार हो गए. पुलिस ने शराब की भट्ठी पूरी तरह से नष्ट कर दी जो शराब बनाकर पानी की टंकियों में रखा गया था उसे नालियों में बहा दिया गया. रांची का नामकुम इलाका अवैध शराब के कारोबार के लिए पहले से विख्यात है. इसी इलाके में 22 निर्दोष लोगों की मौत का कसूरवार कुख्यात शराब कारोबारी सिंघानिया का वर्चस्व चलता है. डोरंडा में जहरीली शराब कांड में 22 लोगों की मौत के बाद गिरफ्तार सिंघानिया को अदालत में उम्र कैद की सजा सुनाई है.