नई दिल्ली (पीटीआई)। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को जैश-ए-मोहम्मद (आतंकी संगठन) के आतंकियों ने कार बम से सीआरपीएफ के एक काफिले में शामिल बस को उड़ा दिया। अधिकारियों ने बताया कि इस हमले में सीआरपीएफ के 41 जवान शहीद हो गए हैं। उन्होंने कहा कि आतंकी समूह ने इस घटना की जिम्मेदारी ले ली है। पुलिस ने इस हमले को अंजाम देने वाले आतंकी की पहचान आदिल अहमद के रूप में की है, जो पुलवामा के काकापोरा में रहता है। अधिकारियों ने बताया कि वह 2018 में जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन में शामिल हुआ था।

सभी राजनीतिक कार्यक्रम रद
इस आतंकी हमले के बाद शुक्रवार को होने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह सहित भाजपा नेताओं के सभी राजनीतिक कार्यक्रम रद कर दिए गए हैं।  इस आतंकी हमले के बाद शुक्रवार को होने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह सहित भाजपा नेताओं के सभी राजनीतिक कार्यक्रम रद कर दिए गए हैं। पीएम मोदी मध्य प्रदेश के इटारसी में एक रैली को संबोधित करने वाले थे और शाह शुक्रवार को ओडिशा और छत्तीसगढ़ में विभिन्न राजनीतिक कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए गए थे। पार्टी के सूत्रों ने कहा कि इन कार्यक्रमों को अब रद कर दिया गया है। पुलवामा आतंकी हमले को ध्यान में रखते हुए जम्मू और कश्मीर में सुरक्षा पर चर्चा के लिए मंत्रिमंडल की सुरक्षा समिति ने शुक्रवार की सुबह एक बैठक की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बैठक की अध्यक्षता की। गृह मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी इस बैठक में उपस्थित रहे।

बढ़ सकती है मरने वालों की संख्या

इस हमले में मरने वालों की संख्या अभी बढ़ सकती है। इस आतंकी हमले में कई लोग घायल भी हुए हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भेज दिया गया है। पुलिस ने बताया कि आतंकियों ने श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर अवंतीपोरा इलाके में वाहन को उड़ा दिया। फिलहाल, सुरक्षाबलों ने विस्फोटस्थल के आसपास के इलाके को घेरते हुए तलाशी अभियान शुरू कर दी है। धमाके के बाद अवंतीपोरा से लेकर बीजबेहाडा तक हाईवे पर आम वाहनों की आवाजाही को रोक दिया गया है।


अरुण जेटली ने भी किया ट्वीट

इस हमले को लेकर विदेश राज्य मंत्री बीके सिंह ने कहा है कि ऐसे कायरतापूर्ण हमलों को देखकर से मेरा खून खौल उठता है, इस हमलों में सीआरपीएफ के 18 वीर जवानों ने अपनी जान गंवा दी है, मैं उनके त्याग और बलिदान को सलूट करता हूँ और ये वादा करता हूं कि हमारे जवानों के खून की एक एक बूँद का बदला लिया जायेगा। जय हिंद।' इसके बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी इस हमले को लेकर एक ट्वीट किया है, जिसे नीचे सकते हैं। बता दें कि उरी हमले के बाद यह सबसे बड़ा आतंकी हमला, उसमें 19 जवान शहीद हुए थे।

पीएम मोदी बोले, शहीदों का बलिदान व्‍यर्थ नहीं जाएगा
पुलवामा में हुए बड़े आतंकी हमले को लेकर पूरा देश भंयकर गुस्‍से में है। घटना को लेकर पीएम मोदी ने टि्वटर पर कहा है कि CRPF जवानों पर किया गया यह हमला बहुत ही जघन्‍य है, जिसकी जितनी भी निंदा की जाए, कम है। उन्‍होंने कहा कि हमले में शहीद हुए जवानों का बलिदान बरबाद नहीं जााएगा। पूरा देश कंधे से कंधा मिलाकर शहीद वीरों के परिवारों के साथ खड़ा है। हमले में घायल जवान जल्‍द से जल्‍द ठीक हो जाएं, ऐसी कामना करता हूं।

National News inextlive from India News Desk