बोको हराम पर हमले का शक
शुक्रवार को नाजिरिया के कानो इलाके में इस्लामिक मूवमेंट ऑफ नाइजीरिया के एक जलूस में आत्मघाती हमलावर ने विस्फोट कर दिया जिसमें करीब 21 लोगों के मरने की खबर है। प्रत्यक्षदर्शियों और जलूस के आयोजकों के अनुसार एक हमलावर बम के साथ भीड़ में घुस गया और पकड़े जाने से पहले ही उसने विस्फोट कर दिया। इस्लामिक मूवमेंट ऑफ नाइजीरिया के मोहम्मद तुरी के अनुसार इस हमले में कई लोग घायल भी हुए हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार हालाकि अभी उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है कि किसने यह विस्फोट करवाए, लेकिन आयोजकों ने चरमपंथी संगठन बोको हराम को इसके लिए ज़िम्मेदार ठहराया।

जारी रहेगा अभियान
शहर के दक्षिण में 20 किलोमीटर दूर स्थित डकासोय गांव में शुक्रवार को हुए हमले में नाइजीरिया के इस्लामिक आंदोलन के समर्थकों के जुलूस को निशाना बनाया गया। इस बारे में कानो से जारिया जा रहे हजारों लोगों के जुलूस का नेतृत्व कर रहे मोहम्मद तुरी ने कहा, ‘हमारा जुलूस एक आत्मघाती हमले की चपेट में आ गया। हमें इस हमले को लेकर कोई हैरत नहीं है, क्योंकि यह पूरे देश की हालत है। इससे हम पीछे नहीं हटने वाले। जिंदा रहने तक आखिरी आदमी मकसद के लिए आगे बढ़ता रहेगा।’ घटना के बाद सडक़ों पर खून बिखरा हुआ था, लेकिन आंदोलन के समर्थकों का आगे बढऩा जारी था। नाइजीरिया आतंकी संगठन बोको हराम से प्रभावित क्षेत्र है। और बीते कुछ समय से ऐसे आतंकी हमलो में हजारो लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

inextlive from World News Desk

International News inextlive from World News Desk