टोकियो (एएफपी)। जापान में बॉर्डर से सटे निगाता और यामागाता में मंगलवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किये गए। अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 6.7 दर्ज की गई और इस आपदा के बाद 21 लोग घायल हो गए हैं। इसके अलावा जापान के उत्तर-पश्चिमी तट पर भूकंप के चलते हलकी सुनामी भी आई। बता दें कि जापानी प्रांतों में भूकंप मंगलवार को रात 10.22 बजे आया। जैसे ही इन इलाकों में भूकंप के झटके महसूस हुए, जापानी मौसम विभाग ने सुनामी की चेतावनी जारी कर दी, जिसे तीन घंटे बाद हटा लिया गया। मौसम विभाग ने बताया था कि सुनामी की लहरें अवाशिमा, सकटा, साडो, वाजिमा और निगाता में देखी जा सकती हैं। भूकंप के बाद जापानी अधिकारी बिल्डिंग की स्थिति की जांच कर रहे हैं, हालांकि अब तक किसी भी इमारत के गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त होने की जानकारी नहीं मिली है।

जम्मू-कश्मीर के कई इलाकों में भूकंप, दोबारा आने की आशंका से अलर्ट हुए लोग

ट्रेन सेवा ठप और कई सड़कें बंद
अधिकारियों ने प्रभावित क्षेत्र में लोगों से इमारत के गिरने और भूस्खलन के खतरों के कारण सतर्क रहने का अनुरोध किया है और साथ ही यह भी कहा है कि इस तरह के झटके अभी भी महसूस किये जा सकते हैं। बता दें कि प्रभावित क्षेत्र में बुधवार को बारिश की भी संभावना है। भूकंप के चलते कई सड़कों को बंद कर दिया गया है और रेल सेवा भी ठप है। बुलेट ट्रेनों के बंद होने से 10,000 लोग प्रभावित हुए हैं। गौरतलब है कि इससे पहले चीन के सिचुआं प्रांत में सोमवार को भूकंप के दो तेज झटके महसूस किये गए थे। अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि इस आपदा से चीन में 12 लोगों की मौत हो गई, जबकि 125 अन्य लोग घायल हैं।

International News inextlive from World News Desk