फिल्म से जुड़ी खास बात
1. इस फिल्म को तैयार करने के दौरान सुपरस्टार सनी देओल शाहरुख खान की तुलना में एक सफल अभिनेता थें। इसलिए उन्हें फिल्म में सुनील मल्होत्रा ​​और राहुल मेहरा की भूमिका के बीच चयन करने की पूरी आजादी दी गई थी। तब सनी ने सुनील मल्होत्रा ​​और शाहरुख ने राहुल मेहरा की भूमिका का चयन किया था। लेकिन फिल्म में हिसंक विलेन का किरदार निभा रहे शाहरुख को सनी के मुकाबले विशाल प्रसिद्धी मिली।
फिल्म डर के पूरे हुए 24 साल,जानें इस फिल्म के बाद क्यों सनी देओल ने नहीं किया कभी शाहरुख के साथ काम

2. फिल्म में राहुल मेहरा की भूमिका के लिए शाहरुख खान उस समय यश चोपड़ा की पहली पसंद नहीं थे। तब इस रोल के लिए सबसे पहले अजय देवगन की पेशकश की गई थी। लेकिन उस समय एक फिल्म में व्यस्त होने के कारण अजय को इस फिल्म में नहीं लिया गया। बाद में, आमिर खान को भी इस भूमिका की पेशकश की गई थी, लेकिन कुछ निजी झगड़े के चलते उन्होंने भी फिल्म में काम करने से इनकार कर दिया। सबसे अंत में शाहरुख खान को इस किरदार के लिए फाइनल किया गया।

3. यश चोपड़ा को फिल्म 'डर' बनाने का विचार तब आया, जब ऋतिक रोशन और उदय चोपड़ा हॉलीवुड फिल्म 'डेड काम' देख रहे थे। उसी समय ऋतिक रौशन ने यश चोपड़ा को 'डर' का शीर्षक दिया।

4. सबसे खास बात ये है कि इस फिल्म के बाद शाहरुख खान और सनी देओल ने पर्दे पर कभी एकसाथ काम नहीं किया। एक इंटरव्यू के दौरान इस बात का खुलासा करते हुए सनी ने बताया कि "जब फिल्म ‘डर’ बनाई गई तो मुझे इस बारे में नहीं बताया गया था कि इस फिल्म में विलेन को हीरो से ज्यादा दमदार तरीके से पेश किया जाएगा। मैं अपनी फिल्मों के बारे में पहले ही निर्देशक से सारी बातें जान लेता हूं। लेकिन जब मुझे पता चला कि इस फिल्म का अंत कुछ ऐसा होना है तो मैं हैरान रह गया। सनी देओल ने फिल्म के एक सीन का जिक्र करते हुए कहा कि फिल्म की एक सीन की शूटिंग के दौरान जब मुझे बताया गया कि शाहरुख मुझे चाकू मारकर चला जाएगा तो मैं हैरान रह गया। मुझे इस बात से बहुत गुस्सा आया लेकिन मैंने किसी तरह अपने गुस्से को काबू में कर लिया। मुझे शाहरुख खान या यशराज बैनर से कोई समस्या नहीं है। लेकिन मुझे झूठ पसंद नहीं है। यही वजह है कि मैं पिछले 24 सालों में कभी भी यशराज के साथ काम नहीं किया।
फिल्म डर के पूरे हुए 24 साल,जानें इस फिल्म के बाद क्यों सनी देओल ने नहीं किया कभी शाहरुख के साथ काम
5. फिल्म में विलेन का किरदार निभाने को लेकर शाहरुख बहुत चिंतित थे। तब उनके मन में ये भी विचार आया था कि यह रोल उनके कैरियर को अंधकार में भी ढकेलने का काम कर सकता है। हालांकि ऐसा नहीं हुआ, इस किरदार के बाद शाहरुख रातों-रात सुपरस्टार बन गए।

6. अगर आप ऐसा सोचते हैं कि सिर्फ बॉलीवुड इंडस्ट्री ही हॉलीवुड की कॉपी करता है तो येह सोचना गलत है। क्योंकि फिल्म 'डर' से ही प्रेरित होकर साल 1996 में हॉलीवुड फिल्म 'फियर' बनाई गई थी।
फिल्म डर के पूरे हुए 24 साल,जानें इस फिल्म के बाद क्यों सनी देओल ने नहीं किया कभी शाहरुख के साथ काम
7. बॉलीवुड के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ था, जब किसी विलेन को हीरो के मुकाबले अधिक प्रसिद्धी मिली थी।

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk