-क्राइम ब्रांच और कैंट पुलिस की टीम ने किया अरेस्ट

-आरोपी के खिलाफ कैंट थाना में घोषित था 25 हजार का इनाम

GORAKHPUR: चिलुआताल एरिया के रोहुआ निवासी पूर्व प्रधान की हत्या के लिए डेढ़ लाख रुपए की सुपारी लेने वाला बदमाश दबोचा गया. पकड़े गए बदमाश की पहचान देवरिया के रामपुर कारखाना, बुद्धू खान निवासी बिस्मिल्लाह के रूप में हुई. कैंट पुलिस ने उस पर 25 हजार रुपए का इनाम घोषित किया था. बिस्मिल्लाह का एक साथी हरिकृष्ण पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया. पकड़ा गया बदमाश चिलुआताल एरिया में एक अगस्त को पीपीगंज के कारोबारी के कर्मचारियों से एक लाख 20 हजार और 22 जून को चार फाटक के पास व्यापारी को गोली मारकर एक लाख रुपए की लूट में वांटेड चल था. उसके खिलाफ आधा दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं.

चंपा देवी पार्क के पास से किया गिरफ्तार

शनिवार को चंपा देवी पार्क, नौकायन के पास पुलिस टीम चेकिंग करने पहुंची. तभी बाइक सवार दो संदिग्धों को पुलिस ने रोकने की कोशिश की. पुलिस को चकमा देकर एक युवक फरार हो गया. दूसरे को पुलिस ने पकड़ा तो उसके पास से 20 हजार रुपए नकद, तमंचा, कारतूस और बाइक बरामद हुई. पूछताछ में उसकी पहचान बिस्मिल्लाह के रूप में हुई. वह गोरखनाथ एरिया के जामियानगर में किराए पर कमरा लेकर अपराध कर रहा था. उसने पुलिस को बताया कि रोहुआ के प्रधान प्रतिनिधि गणेश निषाद ने अपने गांव के पूर्व प्रधान बाबूलाल के मर्डर की सुपारी बिस्मिल्लाह और उसके साथियों को दी थी. गणेश के ममेरे भाई गुलरिहा के भेलिनपुर निवासी जितेंद्र निषाद की जरिए उसे डेढ़ लाख रुपए की सुपारी मिली. रुपए लेने के बाद वह अपने सहयोगी पनियरा के औरहिया निवासी हरिकृष्ण मिश्रा और बंटी उर्फ आकाश के साथ मिलकर पूर्व प्रधान की हत्या के लिए मौके की तलाश में थे. इस बीच सटीक मुखबिरी होने पर लूटपाट कर ली. बिस्मिल्ला ने पुलिस को बताया कि प्रधान का बेटा जरूरत पड़ने पर असलहे उपलब्ध कराता था. वह लोग उसके ठिकाने पर संरक्षण भी पाते थे.

वर्जन

बिस्मिल्ला की गिरफ्तारी से पूर्व प्रधान की हत्या की साजिश रचने का पर्दाफाश हुआ है. प्रधान के प्रतिनिधि और उसके अन्य सहयोगियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. फरार बदमाशों की तलाश की जा रही है.

आलोक शर्मा, एसपी क्राइम