-वारंटियों के अभियान में ढिलाई पर एसएसपी ने थाना प्रभारियों की लगाई लताड़

-कई थाना प्रभारियों की प्रारंभिक जांच की फाइल खोलने की कही बात,

BAREILLY: वारंटियों की गिरफ्तारी में सुस्ती बरतने वाले बरेली के 25 थाना प्रभारियों की कुर्सी पर संकट के बादल छा गए हैं. 15 दिन के अंदर यदि परफॉर्मेस रिजल्ट अच्छा नहीं रहा तो वह थानाध्यक्ष नहीं रहेंगे. एसएसपी की दो टूक से थाना प्रभारियों में हड़कंप मचा हुआ है. क्योंकि मेसेज साफ है कि सिफारिश बिल्कुल नहीं चलेगी.

29 थानों में सिर्फ बहेड़ी नंबर वन

डीजीपी के आदेश पर फ्राइडे रात वारंटियों के खिलाफ अभियान चलाया, लेकिन जब अभियान का परिणाम एसएसपी मुनिराज के सामने आया तो एसएसपी का पारा चढ़ गया. एसएसपी ने सभी थाना प्रभारियों को वायरलेस पर कॉल किया और फिर एक-एक थाना प्रभारी की जमकर क्लास ली. एसएसपी ने कहा कि जिले में 260 वारंटियों की गिरफ्तारी का अभियान चलाया गया. 50 परसेंट तक टारगेट अचीव करना था, लेकिन सिर्फ 60 की गिरफ्तारी हुई है. यह शर्म की बात है. बहेड़ी थाना 21 में 19 गिरफ्तारी नहीं करता तो रिकॉर्ड कहां जाता.

.

हाफिजगंज-बारादरी में रिकाॅर्ड खराब

एसएसपी ने बारादरी थाना प्रभारी को वारंटियों की गिरफ्तारी का रिकॉर्ड देखकर जमकर हड़काया और चेतावनी दे दी कि वह जल्द ही थाने से हटा देंगे. बारादरी में 21 वारंटियों में से सिर्फ एक की गिरफ्तारी हुई थी. इसी तरह हॉफिजगंज में 27 वारंटियों में सिर्फ 5 की गिरफ्तारी हुई थी. इज्जतनगर थाना भी इस मामले में पीछे नहीं था. यहां भी 22 में सिर्फ 1 की गिरफ्तारी हुई. आंवला में 8 में से 1, अलीगंज में 8 में से 2, भमोरा में 14 में से 1 ही वारंटी गिरफ्तार हुआ. एसएसपी ने बहेड़ी थाना प्रभारी को 21 में 19 वारंटियों को गिरफ्तार करने पर 500 रुपए का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की.

सीओ की मॉनीटरिंग पर सवाल

वारंटियों की गिरफ्तारी का टारगेट 50 परसेंट तो दूर 25 परसेंट भी पूरा नहीं हो सका. सिर्फ 23 परसेंट ही गिरफ्तारी होने पर एसएसपी ने थाना प्रभारियों को साफ कहा कि शर्म नहीं आती है. रात में क्या सो जाते हैं. अपने दरोगाओं पर कोई कंट्रोल नहीं है. मॉनीटरिंग ठीक से नहीं कर रहे हो. सीओ भी कोई काम नहीं कर रहे हैं.एसएसपी ने साफ चेतावनी दी कि एक दिन में अधिक से अधिक गिरफ्तारी कर रिपोर्ट भेजे. वायरलेस पर कई थाना प्रभारी बोल गए कि अभी जाकर पकड़कर लाते हैं तो एसएसपी ने कह दिया कि दिन में कांवड़ निकालेंगे या वारंटी पकड़ेंगे.

बहुत चोरियां बढ़ रही हैं

एसएसपी ने वायरलेस पर सुभाषनगर, सीबीगंज, बहेड़ी, समेत कई थाना प्रभारियों से कहा कि उनके यहां चोरी-लूट की वारदातें काफी बढ़ रही हैं. रात में गश्त नहीं की जा रही है. चोरी पर पूरी तरह से कंट्रोल होना चाहिए. उन्होंने देवरनिया थाना प्रभारी को जाम लगाने वालों पर कार्रवाई न करने पर जमकर हड़काया और सभी थाना प्रभारियों से कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का पालन करें और धारा 144 के उल्लंघन पर धारा 188 के तहत कार्रवाई करें.