सुबह चार बजे के करीब आया भूकंप
दक्षिणी ताइवान में शनिवार तड़के आए जबरदस्त भूकंप से कई इलाकों में इमारतें ध्वस्त हो गईं। इसके चलते तीन लोगों की मौत हो गई है जिसमें एक दस वर्ष की बच्ची भी शामिल है। इसका केंद्र दक्षिण-पूर्वी टेनन में 43 किमी दूर बताया गया है। राहत और बचावकार्य के दौरान अब तक करीब दो सौ से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला जा चुका है। युनाइटेड स्टेट जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.4 मापी गई। यह भूकंप सुबह करीब चार बजे आया। इसके बाद भी कई झटके महसूस किए गए हैं।

झटकों के बाद कंपन से गिरीं इमारतें
राहत में जुटे लोगों को मलबा हटाने के लिए क्रेन, बुलडोजर समेत अन्य भारी मशीनों का सहारा लेना पड़ रहा है। जानकारी के मुताबिक करीब दर्जन भर घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 71 वर्षीय एक प्रत्यक्षदर्शी के मुताबिक भूकंप के तेज झटके से एकाएक उनकी इमारत में कंपन शुरू हो गया और कुछ सैकेंड बाद पूरी इमारत भरभरा कर गिर गई।

Earthquake in Taiwan

कल नेपाल में भी आया था भूकंप
इससे पहले नेपाल में शुक्रवार को फिर भूकंप आया था। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 5.5 मापी गई। इससे राजधानी काठमांडू में मची अफरातफरी में 15 लोग घायल हो गए। भूकंप का केंद्र काठमांडू से 55 किलोमीटर उतर पूर्व सिंधुपालचौक जिले में बताया गया। अधिकारियों ने बताया कि काठमांडू में भूकंप का झटका महसूस होते ही लोग बदहवास होकर घर से भागने लगे। इस दौरान भगदड़ में 15 लोग घायल हो गए। मशहूर पर्यटन स्थल पोखरा में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। पिछले वर्ष 25 अप्रैल को आए विनाशकारी भूकंप से नेपाल में भारी तबाही हुई थी। उसके बाद से इस हिमालयी देश में अब तक 428 बार भूकंप के हल्के झटके लग चुके हैं। एक हफ्ता पहले भी 4.4 तीव्रता का भूकंप आया था।

inextlive from World News Desk

International News inextlive from World News Desk