ष्ट॥न्यरुढ्ढन् : शहर के नया बाजार स्थित शिबूरंजन खां मेमोरियल डिग्री कॉलेज में बीए प्रथम वर्ष के करीब 300 छात्रों का भविष्य अधर में लटक गया है. इन सभी छात्रों को शुक्रवार से शुरू हुई बीए पार्ट वन की परीक्षा का एडमिट कार्ड नहीं मिल पाया, जिसके चलते वे परीक्षा में सम्मिलित नहीं हो सके. एडमिट कार्ड नहीं मिलने से नाराज अनेक छात्र कॉलेज पहुंचे लेकिन वहां पूरे परिसर में ताला जड़ा हुआ था.

बर्बाद नहीं होगा साल

¨प्रसिपल डॉ विनय कुमार मेहता से कहा कि शिक्षा विभाग से मान्यता मिलने में विलंब हो रहा है. 18 दिसंबर को ही विश्वविद्यालय को प्रस्वीकृति से संबंधित तमाम कागजात भेज दिए गए थे. फाइल शिक्षा मंत्री के टेबल पर पड़ी है. एक-दो दिन के भीतर ही प्रस्वीकृति का काम पूरा होने की उम्मीद है.

फी ली, पर रजिस्ट्रेशन नहीं

परीक्षा से वंचित छात्रों ने बताया कि उनसे 750 रुपए रजिस्ट्रेशन शुल्क लिया गया, लेकिन रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ. कॉलेज प्रबंधन ने कहा था कि 15 मार्च तक मामला सुलझ जाएगा, लेकिन 22 को भी एडमिट कार्ड नहीं मिला और 23 से परीक्षा शुरू हो गई है. एबीवीपी के दिनेश बाल्मीकि ने बताया कि जब परीक्षा नियंत्रक से एडमिट कार्ड के बाबत फोन पर संपर्क किया गया तो उन्होंने कॉलेज के किसी भी छात्र का रजिस्ट्रेशन नहीं होने की बात कही.

मान्यता के लिए नहीं की गई पहल

शहर के शिबूरंजन खां मेमोरियल डिग्री कॉलेज को सत्र 2014- 17 के लिए पहली बार अस्थाई तौर पर विश्वविद्यालय एवम शिक्षा विभाग से मान्यता मिली थी. फिलहाल यहां 300 से अधिक छात्र हैं. जब तक कॉलेज को स्थाई मान्यता नहीं मिल जाती तब तक अस्थाई प्रस्वीकृति का हर साल नवीकरण कराना पड़ता है. इस वर्ष यह प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाई.