कोचि (पीटीआई)। केरल में इन दिनों भारी बारिश की वजह से बाढ़ और भूस्खलन ने तबाही मचा रखी है। बारिश ने यहां अब तक दो दर्जन से अधिक लोगों की जिंदगी छीन ली है।  राहत व बचाव कार्य जारी है। प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट है। सेना, नौसेना, वायुसेना, तटरक्षक बल और एनडीआरएफ ने यहां पर कमान संभाल रखी है। लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा रहा है। भारतीय नौसेना द्वारा यहां हेल्प ऑपरेशन चलाकर अबतक 55 लोगों को बचाया जा चुका है।

बारिश और भूस्खलन और से बिगड़े केरल के हालात,नेवी ने अब तक 55 लोगों को निकाला सुरक्षित

भारी बारिश से इडुक्की में जानमाल की काफी क्षति हुई
बचाए गए लोग केरल के पहाड़ी इलाकों में फंसे हुए थे। भारी बारिश से इडुक्की में जानमाल की काफी क्षति हुई है। इडुक्की जिला प्रशासन ने पहाड़ी क्षेत्रों में पर्यटकों की आवाजाही के लिए रोक दिया है। वहीं पेरियार नदी में जलस्तर को देख कोचि के बैकवॉटर्स से घिरे वेलिंगडन द्वीप के हिस्सों के भी डूबने की आशंका है।ऐसे में भारतीय नौसेना ने दक्षिण नौसेना कमान को अलर्ट पर रखा है। केरल के हालातों पर काबू पाने के लिए शासन भी हर संभव मदद कर रहा है।

बारिश और भूस्खलन और से बिगड़े केरल के हालात,नेवी ने अब तक 55 लोगों को निकाला सुरक्षित

मुख्यमंत्री ने बाढ़ प्रभावित इलाकों के जायजा लिया
कल मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने बाढ़ प्रभावित इलाकों के हालात का जायजा लिया। वह लागातार राज्य के हालताें पर नजर रखे हैं। उन्होंने 12 अगस्त तक अपने सभी सार्वजनिक कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं। वहीं केंद्रीय मंत्री अल्फोंस कन्नामथानम ने बताया कि लगातार गृहमंत्रालय से संपर्क में हैं।  केरल में दक्षिण-पश्चिमी मानसून के कारण भारी बारिश हो रही है। अब तक इस बारिश और भूस्खलन की वजह से बीते 24 घंटों में 26 लोगों की मौत हो गई।

केरल में भारी बारिश से भूस्खलन और बाढ़, 24 घंटे में 26 की मौत

उत्तर भारत के इन राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी, पहले से हो जाएं अलर्ट

National News inextlive from India News Desk