ranchi@inext.co.in
RANCHI: नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ स्टडी एंड रिसर्च इन लॉ द्वारा गठित जांच कमिटी ने यूनिवर्सिटी के 6 स्टूडेंट्स को एक महीने के लिए सस्पेंड करने की सिफारिश की है. इन पर लखनऊ के रहने वाले तनय चतुर्वेदी(बीए एलएलबी फ‌र्स्ट ईयर का स्टूडेंट था) ने मोहित सोनी, सक्षम श्रीवास्तव, छविप्रति गादी, अनिश गुप्ता, ऋषभ कुमार और कबीर जायसवाल पर रैगिंग का आरोप लगाते हुए कंप्लेन दर्ज कराई थी. उसने आरोप में कहा था कि जिस वक्त यह घटना घटी उस वक्त कई और स्टूडेंट्स थे, लेकिन उन्होंने भी हस्तक्षेप करना उचित नहीं समझा.

पीडि़त के पिता के दबाव पर जांच
जानकारी के अनुसार, घटना की जानकारी तनय ने अपने पिता को दी उसके बाद वे कॉलेज आए और उनके दबाव की वजह से ही शिकायत दर्ज की जा सकी. तनय के पिता ने रैगिंग की कंप्लेन दर्ज कराते हुए यूनिवर्सिटी से जमा राशि के रिफंड की मांग की. इसके बाद यूनिवर्सिटी की ओर से जांच कमिटी के गठन की कार्रवाई की गई थी.

वीसी के आने पर रिपोर्ट पर विचार
यूनिवर्सिटी के एक पदाधिकारी ने बताया कि इस मामले में अभी और भी कई स्तर पर जांच होनी है. फिलहाल एक महीने के लिए 6 स्टूडेंट्स सस्पेंड किए गए हैं. उन्होंने बताया कि अभी वायस चांसलर गौतम कुमार चौधरी आउट ऑफ स्टेशन हैं. उनके आने के बाद कमिटी की रिपोर्ट पर विचार किया जाएगा.