जिस उम्र में दूसरे लोग लाचार हो जाते हैं, इन्‍होंने मोबाइल गेम बनाकर जीता दुनिया का दिल

कानपुर।
एक तरफ तो पूरी दुनिया के ज्यादातर मोबाइल ऐप डेवलपर बूढ़े बुजुर्ग लोगों के लिए मोबाइल ऐप या मोबाइल गेम बनाने में कोई इंटरेस्ट नहीं रहते। हर कोई सिर्फ बच्चों और जवान लोगों के लिए ही तरह-तरह की मोबाइल एप बनाने में जुटे रहते हैं। ऐसे में जापान की 82 साल की मसाको वकामिया ने जो कर दिखाया, वो उनके हमउम्र लोग शायद सोच भी नहीं सकते।


सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक बैंक क्लर्क के तौर पर रिटायरमेंट के बाद का जीवन बिता रही जापान की एक महिला मसाको वकामिया को पिछले साल2017 में अचानक ही मोबाइल ऐप्स के लिए की जाने वाली कोडिंग यानी सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट सीखने की धुन सवार हुई। उन्होंने पक्का इरादा किया और कोडिंग सीखना शुरू कर दिया। फिलहाल उन्होंने कोडिंग सीखने के बाद iPhone के लिए एक फ्री मोबाइल गेम डेवलप कर डाला है जिसका नाम है हिनाडन। यह मोबाइल गेम खासतौर पर जापान के एक पारंपरिक त्‍योहार पर आधारित है, जिसे यहां पर डॉल डे के नाम से भी जाना जाता है।

82 साल की उम्र में महिला ने कोडिंग सीखी और बना डाला एक पॉपुलर मोबाइल गेम,इसे कहते हैं जिंदादिली

बुजुर्ग ऐप डेवलपर की ऐप ने हासिल की बड़ी पॉपुलैरिटी

मसाको द्वारा बनाई गई इस मोबाइल गेम की पॉपुलैरिटी का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि iPhone ऐप स्टोर पर इस ऐप को फाइव स्टार रेटिंग मिली हुई है और एक साल से भी कम वक्‍त में इस ऐप को जापान और पूरी दुनिया से 53 हजार बार डाउनलोड किया जा चुका है। फिलहाल मसाको अपनी इस नई उपलब्धि से काफी खुश हैं और अपने इसी मोबाइल गेम के अंग्रेजी, चाइनीस और फ्रेंच वर्जन को प्लान करने में जुटी हुई हैं।

ऐपल सीईओ ने इस महिला को दी दुनिया के सबसे बुजुर्ग ऐप डेवलपर की उपाधि

aarp.org की रिपोर्ट के मुताबिक जापान की 82 साल की मसाको की इस उपलब्धि की ख्याति पूरी दुनिया में फैल चुकी है। हाल ही में ऐपल कंपनी के सीईओ टिम कुक ने कैलिफोर्निया में हुए कंपनी के सालाना वर्ल्ड वाइड डेवलपर्स कॉन्फ्रेंस के दौरान मसाको वकामिया को दुनिया की सबसे बुजुर्ग ऐप डेवलपर कहकर संबोधित किया था। बता दें कि वकामिया इस कांफ्रेंस के दौरान खुद भी मौजूद थीं।


दुनिया भर के बुजुर्गों को दे रहीं प्रेरणा

एक तरफ जहां फेसबुक, ऐपल या फिर गूगल में काम करने वाले कर्मचारियों की औसत उम्र 30 साल के आसपास होती है। वहीं वकामिया इतनी ज्यादा उम्र में भी मोबाइल ऐप और गेम गेम क्षेत्र में कुछ नया और अनोखा करने में जुटी हुई है। उन्हें देखकर दुनिया के तमाम बूढ़े बुजुर्ग लोगों को नए जोश और उमंग से भर जाना चाहिए। साथ ही उन्‍हें इस बात का एहसास होना चाहिए कि इंसान अपने शरीर से भले ही बूढ़ा हो जाए लेकिन अपने दिल, दिमाग और सोच से वो हमेशा युवा बना रह सकता है।

यह भी पढ़ें:

इस कैमरे द्वारा देख सकेंगे दीवार के आर पार, फिल्मों का झूठ आज हो गया सच!

चीन को पीछे छोड़ अमरीका ने बनाया दुनिया का फास्टेस्ट सुपर कंप्‍यूटर, दो टेनिस कोर्ट के बराबर है आकार

ऑनलाइन प्राइवेसी बनाए रखने के लिए यह हैं लेटेस्ट तरीके, एक बार जरूर आजमाएं

Technology News inextlive from Technology News Desk