क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ: स्वच्छ भारत मिशन के तहत टॉयलेट का निर्माण पूरे देश में चल रहा है. वहीं झारखंड को ओडीएफ भी घोषित किया जा चुका है. ऐसे में रांची नगर निगम भी बिल्डिंग के तीसरे फ्लोर पर टॉयलेट का रंग-रूप बदल रहा है. जहां आने वाले लोग नेचुरल कॉल आने पर नौ लखा टॉयलेट का इस्तेमाल करेंगे. जी हां, रांची नगर निगम के थर्ड फ्लोर पर टॉयलेट की रिपेयरिंग के लिए नौ लाख का टेंडर निकाला गया है. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस टॉयलेट में लोगों को क्या-क्या सुविधाएं मिलेंगी?

12 हजार में इंडिविजुअल टॉयलेट

खुले में शौच से मुक्त के लिए लोगों के घरों में इंडिविजुअल हाउस होल्ड टॉयलेट्स का निर्माण कराया गया. इसमें एक-एक टॉयलेट के लिए 12 हजार रुपए सरकार ने दी है. लेकिन रांची नगर निगम के टॉयलेट की रिपेयरिंग में 9 लाख खर्च किए जा रहे हैं. इतना खर्च तो टॉयलेट के निर्माण में भी नहीं आया होगा. बताते चलें कि नौ लाख रुपए से टॉयलेट की रिपेयरिंग के साथ ही केबिन भी बनाया जाना है.

वर्जन

जो भी टेंडर निकलता है उसपर बैठक कर विचार-विमर्श किया जाता है. इसके बाद ही काम कराने की परमिशन दी जाती है. इसके लिए संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक की जाएगी.

आशा लकड़ा, मेयर, रांची