आरोपी नशे में चूर होकर चला रहा था गाड़ी

पुलिस पर भी किया रौब गालिब करने का प्रयास

Meerut. स्वास्थ्य विभाग के क्लर्क ने नशे में चूर होकर फुटपाथ पर सो रहे कई लोगों पर गाड़ी चढ़ा दी, जिसके चलते वहां पर चीख पुकार मच गई. कई लोगों ने भागकर अपनी जान बचाई. मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत हो गई. एक अन्य घायल को गंभीर हालत में मेडिकल रेफर किया गया. पुलिस ने चालक को गिरफ्तार कर लिया.

नहीं लग पाए थे ब्रेक

यह घटना मंगलवार रात साढ़े नौ बजे के आसपास की है. बताया गया कि जागृति विहार निवासी किशन सिंह पुत्र बसंत सिंह गाजियाबाद के जिला अस्पताल में क्लर्क है. वह रात सवा नौ बजे ट्रेन से सिटी स्टेशन पहुंचा. वहां से स्टैंड पर खड़ी अपनी नई कार मारुति जैन टर्बो पर सवार हुआ और स्टेशन के पास फुटपाथ पर सो रहे कई व्यक्तियों पर व्यक्तियों पर गाड़ी चढ़ गई. जिसके चलते वहां पर चीख पुकार मच गई.

जमकर पिटाई शुरू

मौके पर पहुंचे आसपास के लोगों ने कार चालक को दबोचा. उसकी जमकर पिटाई शुरू कर दी. इसके बाद पुलिस को फोन किया. मौके पर पहुंची रेलवे रोड पुलिस ने घायल हुए दोनों लोगों को जिला अस्पताल भेजा. जहां पर एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत हो गई. जबकि दूसरे को मेडिकल के लिए रेफर किया गया. पुलिस चालक को हिरासत में लेकर थाने लाई. रेलवे रोड थाने में चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया. एसओ रेलवे रोड विनोद कुमार का कहना है कि चालक किशन सिंह नशे में गाड़ी चला रहा था.

मरने वाले की पहचान नहीं

एसओ रेलवे रोड ने बताया कि मरने वाकी शिनाख्त नहीं हो पाई है. देखने में उसकी उम्र करीब 65 साल के आसपास लग रही थी. वहीं दूसरे ने अपना नाम राजू पुत्र धुव्रराय निवासी बिहार बताया. पुलिस ने बताया कि चालक से गाड़ी के ब्रेक नहीं लग पाए थे, जिसके चलते यह घटना हुई. शुरू में चालक ने रौब गालिब करने का प्रयास किया था, लेकिन पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया.