दिल्लीवासियों को तोहफा
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों से किए अपने वादे की ओर एक कदम आगे बढ़ते हुए मुफ्त पानी देने की योजना पर अपनी मुहर लगा दी है. अगले तीन महीनों तक दिल्ली की जनता को मुफ्त पानी की सुविधा दी जाएगी. हर महीने 20 हजार लीटर मुफ्त पानी देने का प्रावधान किया गया है. केजरीवाल ने यह फैसला अपने घर बुलाए दिल्ली जल बोर्ड के अधिकारियों से चर्चा करने के बाद लिया है. गौरतलब है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बीमार हैं. केजरीवाल को करीब 102 डिग्री बुखार के साथ-साथ सर्दी-खांसी और डायरिया की भी शिकायत है. डॉक्टरों ने उन्हें आराम करने की सलाह दी है. बीमार पड़ने पर केजरीवाल ने कहा कि भगवान ने बहुत गलत समय पर उन्हें बीमार किया है. वे आज दफ्तर नहीं जा रहे हैं, जबकि आज दफ्तर जाना बहुत जरूरी था.

सभी विभागों की बैठक बुलाई

उधर, दूसरी तरफ अनधिकृत कॉलोनियों पर आज बड़ा फैसला होने की संभावना है. कैबिनेट मंत्री मनीष सिसोदिया ने सभी विभागों की बैठक बुलाई है. इसके साथ ही शिक्षा पर भी बड़ा फैसला जल्द लिया जा सकता है. यही नहीं, मनीष सिसोदिया तो आज कर्मचारियों के दफ्तर पहुंचने से पहले ही पहुंच गए. जहां तक रही बात जल बोर्ड की मीटिंग की तो बोर्ड की ओर से बैठक की नोटिस रविवार शाम तक जल बोर्ड के सभी सदस्यों को भेज दिया गया. हालांकि नोटिस के साथ कोई एजेंडा नहीं भेजा गया है, लेकिन जल बोर्ड के सूत्रों का कहना है कि सोमवार को होने वाली बैठक में 700 लीटर पानी मुफ्त देने की घोषणा कर दी जाएगी.

नहीं सुनी जल बोर्ड की

शनिवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के समक्ष जल बोर्ड की ओर से कुछ आंकड़े रखे गए थे, जिसमें अधिकारियों ने उन्हें समझाने की कोशिश की कि 700 लीटर मुफ्त पानी देने से जल बोर्ड को नुकसान होगा. लेकिन मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कर दिया कि वह पहले ही कार्ययोजना तैयार कर चुके हैं और जानते हैं कि इससे कितना नुकसान होगा. बताया जाता है कि इसी के चलते उन्होंने जल बोर्ड की मुख्य कार्यकारी अधिकारी देवाश्री मुखर्जी का तबादला करने के आदेश दिए.

Hindi news from National news desk, inextlive

National News inextlive from India News Desk