RANCHI : दो माह के इंतजार के बाद राजधानी रांची में अब विकास रफ्तार पकड़ेगा। लोकसभा चुनाव को लेकर लगी आचार संहिता के चलते विकास कार्यो पर ब्रेक लग गया था। शहर में ऐसे कई काम हैं जो चुनाव खत्म होने के बाद अब शुरू होगा। वही विकास कार्य कराए जा सकेंगे जिनके लिए वर्क ऑर्डर जारी हो चुका है। आचार संहिता के चक्कर में नगर निगम के कई टेंडर बीच में ही अटक गए थे। उनके लिए भी अब प्रॉसेस शुरू होगा।

तेज होगा स्मार्ट सिटी का काम

रांची स्मार्ट सिटी का काम अब तेजी से शुरू होगा। चुनाव के कारण स्मार्ट सिटी में कई सारे काम पेंडिंग हैं और कई सारी काम, जिनका टेंडर फाइनल प्रोसेस में आ चुका है, उनका भी अब टेंडर निकालने का प्रॉसेस शुरू होगा। बता दें कि पूरे तीन महीने से काम बंद था। अब इसे जून महीने से शुरू किया जाएगा।

फ्लाईओवर का काम होगा शुरू

हरमू फ्लाईओवर का काम भी अचार संहिता के फेर में उलझ कर रह गया था। इस फ्लाईओवर को बनाने के लिए कई बार डिजाइन चेंज किया गया है, डिजाइन बनाने के लिए कई कंसलटेंट भी बदले गए। इसी बीच आचार संहिता लगने से तीन महीने तक यह काम पूरी तरह से ठप था। इस फ्लाईओवर के लिए न तो टेंडर हो पाया था और न ही किसी नई कंसलटेंट एजेंसी का चयन किया जा सका था। अब जून महीने के बाद इस फ्लाईओवर का काम शुरू होगा।

नहीं हो पाया टेंडर

रांची नगर निगम द्वारा शहर की कई सड़कों और नालियों के निर्माण के लिए टेंडर का प्रॉसेस होने वाला था, लेकिन आचार संहिता होने के कारण यह फंस गया था। इसी तरह जिला प्रशासन द्वारा भी कई ग्रामीण इलाकों में सड़कों और पुलों का टेंडर फाइनल प्रॉसेस में था लेकिन आचार संहिता लागू होने के बाद यह काम भी अटक गया था। अब सारे काम जून महीने के बाद ही शुरू हो सकेंगे।

होगा तारामंडल का उद्घाटन

चिरौंदी में साइंस सिटी के पास तारामंडल लगभग बनकर तैयार है। दो महीने के अंदर इसका उद्घाटन होना था, लेकिन आचार संहिता के फेर में यह भी उलझ गया था। साइंस टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन काउंसिल की ओर से बनाया जा रहे तारामंडल का काम अब करीब पूरा हो चुकाहै। मार्च में ही इस तारामंडल को आम लोगों के लिए शुरू करने की तैयारी थी, लेकिन चुनावी चक्कर में इसका भी उद्घाटन नहीं हो पाया। चिरौंदी में बन रहे इस तारामंडल की लागत 26 करोड़ रुपए है और इसे 15 स्क्वायर मीटर में बनाया जा रहा है।