-दिवाली की खुशियां मातम में बदली

BAREILLY: जिले में अलग-अलग सड़क हादसों में तीन लोगों की जान चली गई. एक शख्स दिवाली पर घर जाने के लिए निकला था, लेकिन सुबह उसकी लाश रोड किनारे पड़ी मिली. वहीं दो सड़क हादसे थर्सडे सुबह हुए. पुलिस ने सभी के शवों को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है.

1.

रात भर पड़ा रहा सड़क किनारे

इज्जतनगर थाना अंतर्गत अदलखिया में अज्ञात वाहन की टक्कर से 22 वर्षीय त्रिलोकी उर्फ पवन की मौत हो गई. त्रिलोकी बारी नगला कैंट का रहने वाला था. वह प्लंबर का काम करता था. उसकी शादी नहीं हुई थी. परिवार में मां भगवान देई और एक भाई है. त्रिलोकी दिवाली के दिन केसरपुर की मार्केट में गया था. वह बाइक से घर लौट रहा था, लेकिन रात भर वापस नहीं पहुंचा. सुबह परिजनों को सूचना मिली कि उसका शव रोड किनारे पानी में पड़ा है. पुलिस की मानें तो किसी अज्ञात वाहन ने उसे टक्कर मार दी, जिससे वह साइड में गिर गया. रात पर इलाज न मिल पाने की वजह से उसकी मौत हो गई.

2.

बाइक फिसलने से मौत

बिथरी चैनपुर में आलमपुर गजरौला के पास थर्सडे सुबह 18 वर्षीय धमेंद्र पुत्र हरिशंकर कुमार की सड़क हादसे में मौत हो गई. धमेंद्र रजऊ परसपुर का रहने वाला था. उसकी मोटरसाइकिल डिसबैलेंस हो गई थी, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया था. उसे डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल इलाज के लिए लाया गया, लेकिन कुछ देर बाद उसकी जान चली गई.

3.

रोड किनारे पड़ा मिला शव

हाफिजगंज थाना अंतर्गत चौखंडी में सुबह 45 वर्षीय जगदीश चंद्र की रोड एक्सीडेंट में मौत हो गई. जगदीश, चौखंडी गांव का रहने वाला था. वह तड़के सुबह खेत पर बाइक से गया था लेकिन उसके बाद उसकी लाश मिली. उसकी बाइक फिसल गई थी. उसके परिवार में पत्‍‌नी मुन्नीदेवी और 4 बच्चे हैं.