- हादसे में एक दर्जन लोग घायल, दिन भर मची रही अफरातफरी

- एक ट्रक के पलटने के बाद स्मॉग में दिखाई न देने से हुआ हादसा

मथुरा. यमुना एक्सप्रेस-वे पर बुधवार सुबह स्मॉग की धुंध में दो दर्जन से अधिक वाहन एक-दूसरे से टकरा गए. इस हादसे में सवार एक युवक की मौत हो गई और एक विदेशी जोड़े सहित एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए. इनमें कुछ की हालत ¨चताजनक बताई गई है. मारे गए युवक की पहचान नहीं हो सकी है. इस हादसे से एक्सप्रेस-वे पर दिनभर यातायात बिगड़ा रहा.

टकराते चले गए वाहन

यमुना एक्सप्रेस-वे पर बुधवार सुबह करीब छह बजे स्मॉग छाया हुआ था. मांट टोल के मुताबिक उस समय दृश्यता जीरो से लेकर 10 मीटर तक थी. इसी दौरान नोएडा से आगरा की ओर जा रहा एक ट्रक थाना बलदेव क्षेत्र में गांव हथौड़ा के समीप माइल स्टोन 125 पर स्मॉग की धुंध में डिवाइडर से टकराकर पलट गया. इसके बाद छह से आठ बजे तक पीछे से आ रहे कैंटर, ट्रक, बस और कार समेत दो दर्जन वाहन एक-दूसरे से टकराते चले गए. इस हादसे में एक युवक की मौत हो गई. इसकी अभी तक पहचान नहीं हो सकी है.

मदद को दौड़े ग्रामीण

वाहनों के टकराने एवं चीख-पुकार सुनकर गांव हथौड़ा समेत आसपास गांवों के ग्रामीण एक्सप्रेस-वे की ओर दौड़ पड़े और वहां बचाव करते हुए घायलों की मदद करने लगे. सूचना के करीब दो घंटे बाद पुलिस एवं एक्सप्रेस-वे के रेस्क्यू कर्मचारी भी क्रेन और एंबुलेंस लेकर मौके पर पहुंचे. कराहते घायल मदद के लिए चीख-पुकार मचा रहे थे. स्थिति की नजाकत को देखते हुए पुलिस और एक्सप्रेस वे कर्मियों ने घायलों को उपचार के लिए एंबुलेंस की मदद से आगरा एवं मथुरा के अस्पतालों में भिजवा दिया. सूचना पर एसपी देहात आदित्य कुमार शुक्ला के अलावा एसडीएम एवं सीओ महावन समेत आसपास थानों का पुलिस बल भी पहुंच गया. यहां क्रेन और जेसीबी की मदद से क्षतिग्रस्त वाहनों को सड़क किनारे खड़ा करा कर आवागमन को सुचारू कराया. इस दौरान एक्सप्रेस-वे पर करीब तीन घंटे आवागमन बाधित रहा.