संबंधित विभागों को दिया गया दो माह का समय

सीवर बिछाने और कितने गड्ढे भरने की रोज देनी होगी रिपोर्ट

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: शहर को जलभराव और गड्ढों की मुसीबत से दो चार कराने वाले जल निगम और गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई पर डीएम के बाद कमिश्नर ने लगाम कसी है. उन्होंने शनिवार को विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक में सड़कों को इन समस्याओं से मुक्त कराने के आदेश दिए. यही नहीं शनिवार शाम तक वे शहर का भ्रमण कर मेन होल व गड्ढों की स्थिति चेक कर उनकी मरम्मत करने के साथ रिपोर्ट भी सौपेंगे. कमिश्नर ने शहर की सड़कों को दो माह में दुरुस्त करने का आदेश दिया है.

एक्शन में आए कमिश्नर

भारी बरसात के चलते नागरिकों को होने वाली असुविधाओं पर गम्भीर रुख अपनाते हुए कमिश्नर ने विभागों के चीफ इंजीनियर व जीएम को बुलाया था. गंगा प्रदूषण इकाई के जीएम ने बताया कि सीवर बिछाने तथा सभी घरों को सीवर कनेक्शन से जोड़ने का कार्य अक्टूबर तक पूरा कर लिये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. इसमें विलंब नहीं होगा. कमिश्नर ने तय समय में गलियों तक में सीवर के हाउस कनेक्शन का कार्य सुनिश्चित करने का आदेश दिया है.

रोज देनी होगी प्रगति रिपोर्ट

कमिश्नर ने अधिकारियों को बैठक के तुरंत बाद रवाना करते हुए गड्ढों की मरम्मत का तत्काल डिटेल मांगा. उन्होंने कहा कि सभी कार्यो की रोज शाम को डिटेल सौंपी जाए. नगर निगम के चीफ इंजीनियर ने बताया कि सीवर लाइन बिछाने के बाद उसपर गिट्टी डालने के बाद बरसात की वजह से उसका स्तर जहां तक नीचे चला गया है, उस पर तेजी से गिट्टी तथा अन्य सामग्री डालकर सामान्य स्तर तक लाने का कार्य किया जा रहा है. कमिश्नर ने कहा कि वे स्वयं जाकर सड़कों का हाल देखेंगे और दो माह में सड़कों का काम पूरा नहीं होने पर अधिकारी कार्रवाई के लिए तैयार रहें. बैठक में परेड एवं मेला क्षेत्र में स्थायी सीवर लाईन बिछाकर मेला क्षेत्र एवं समीपवर्ती क्षेत्रों दारागंज, मोरी गेट आदि में सीवर कनेक्शन के कार्य तेज गति से करते हुये परेड क्षेत्र सीवर लाइन से जोड़े जाने के आदेश भी कमिश्नर ने बैठक में दिए.