- एडीजी बोले, चेक करें ढाई साल तक के अपराधों का डाटा

- उत्कृष्ट सेवा के लिए 18 पुलिस कर्मियों को किया सम्मानित

बरेली : यूपी 100 के एडीजी ध्रुवकांत ठाकुर ने पब्लिक में और ज्यादा विश्वास जगाने की जरूरत पर जोर दिया है। उन्होंने कहा कि जनता का यूपी 100 को समाज में और बेहतर छवि बनाने के लिए अभी सुधार करना चाहिए। वह भोजीपुरा स्थित सिद्धि विनायक इंजीनियरिंग कालेज में आयोजित यूपी 100 के नौ दिवसीय प्रशिक्षण के समापन पर बतौर मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि ढाई साल का डाटा देखें और अध्ययन करें कि किस तरह के अपराधों पर ज्यादा कॉल की गई हैं। इससे समाज में किस तरह के अपराध हो रहे हैं। सहजता से पता लग जाएगा। एडीजी ने कहा कि चुस्त दुरुस्त कानून व्यवस्था से पुलिस नहीं बल्कि सरकार की छवि बनती है। उन्होंने कहा कि अगर यूपी 100 के सामने कोई आपराधिक घटना हो रही है या जनता का कोई व्यक्ति मौखिक मदद की गुहार करता है तो तुरंत एक्शन लें और फोन करने के लिये न कहें। फोन न लगने के सवाल पर बोले कि नेटवर्क की समस्या से ऐसा होता है। इसके लिए दूर संचार विभाग से बात करेंगे। एडीजी ने उत्कृष्ट कार्य करने वाले 18 पुलिस कर्मियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। एसएसपी मुनिराज जी ने कहा कि यूपी 100 से अपराधों में कमी आई है। एक कॉल पर पुलिस पीडि़त के सामने होती है। उन्होंने माना कि थाने की पुलिस की अपेक्षा यूपी 100 पहले पहुंचती है।