बुधवार को आ सकती है फॉरेंसिक रिपोर्ट
lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : एएसपी एटीएस राजेश साहनी की मौत के मामले की जांच कर रहे एडीजी लखनऊ जोन राजीव कृष्णा ने आईजी असीम अरुण व अन्य पुलिसकर्मियों के बयान दर्ज किये। इसके अलावा उन्होंने घटनास्थल का निरीक्षण किया। बताया जा रहा है कि बुधवार को फॉरेंसिक रिपोर्ट आ सकती है, जिसके बाद जांच रफ्तार पकड़ सकती है साथ ही यह भी पता चल सकेगा कि आखिर एएसपी साहनी की मौत किन हालात में गोली लगने से हुई है।

ड्राइवर के बयान पर टिकी जांच की दिशा
गौरतलब है कि, सोमवार को एडीजी राजीव कृष्णा ने एटीएस मुख्यालय पहुंचकर घटनास्थल की गहन पड़ताल की थी। उन्होंने वहां मौजूद रहे पुलिसकर्मियों से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली थी। बताया जा रहा है कि इस दौरान उन्होंने आईजी एटीएस असीम अरुण व अन्य पुलिसकर्मियों के बयान दर्ज किये। इससे पूर्व एडीजी ने पुलिस लाइंस में एएसपी साहनी की पत्नी सोनी साहनी व बेटी श्रेया के बयान दर्ज किये थे। हालांकि, अभी एसएसपी एटीएस जोगिन्दर कुमार और एएसपी साहनी के ड्राइवर मनोज कुमार के बयान दर्ज नहीं किये गए हैं। बताया जा रहा है कि इन दोनों के बयान बुधवार को दर्ज किये जा सकते हैं। उल्लेखनीय है कि ड्राइवर मनोज ही बीती 29 मई को एएसपी साहनी को आवास से लेकर दफ्तर पहुंचा था। जहां एएसपी साहनी ने उसके जरिए ही एक ऑपरेशन में चलने की बात कहकर सर्विस पिस्टल इश्यू कराई थी।

सीबीआई ने अब तक नहीं टेकअप की जांच
एएसपी साहनी की मौत को लेकर सवाल उठने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने का फैसला लिया था। जिसके बाद राज्य सरकार ने सीबीआई जांच कराने को लेकर संस्तुति केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेज दी थी। संस्तुति भेजे जाने के बाद सीबीआई की रीजनल ऑफिस की टीम ने एएसपी साहनी की मौत से संबंधित दस्तावेज लेकर उनका अध्ययन शुरू किया था। हालांकि, अब तक सीबीआई ने अधिकृत रूप से जांच को टेकअप नहीं किया है। गौरतलब है कि सीबीआई जांच की संस्तुति किये जाने से पहले डीजीपी ओपी सिंह ने पूरे मामले की जांच एडीजी लखनऊ जोन को सौंपी थी।

एएसपी साहनी मामले में सीबीआई जांच को लेकर आईपीएस और पीपीएस के बीच तनातनी तेज

एएसपी राजेश साहनी की आत्महत्या पर उठते 10 सवाल, आखिर कब मिलेंगे इनके जवाब

National News inextlive from India News Desk