- 17 सितंबर को है पीएम का 68वां जन्मदिन, काशी के बच्चों के साथ बिताएंगे दिन

- बच्चों संग देखेंगे डॉक्यूमेंट्री 'चलो जीते हैं', देंगे नई परियोजनाओं की सौगात

27 सितंबर को प्रस्तावित पीएम नरेंद्र मोदी के काशी आगमन में बदलाव संभावित है. पीएम ने अब अपना जन्मदिन काशी के बच्चों के साथ मनाने की इच्छा जताई है. इसकी सूचना मिलते ही प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. 17 सितंबर को अपने 68वें जन्मदिन पर पीएम काशी के 5000 बच्चों के साथ दिन बिताएंगे. बच्चों के साथ वह अपने जीवन पर बनी डॉक्यूमेंट्री 'चलो जीते हैं' देखेंगे और काशी में कुछ नई परियोजनाओं का शिलान्यास भी करेंगे.

डीएम एसएसपी ने की बैठक

सूत्रों की मानें तो जन्मदिन मनाने के लिए पीएम का कार्यक्रम 10 दिन पीछे किया गया है. इस सिलसिले में प्रशासन की बैठकों का दौर भी शुरू हो गया है. मंगलवार की रात और बुधवार की सुबह भी डीएम, एसएसपी समेत तमाम अफसरों की बैठक हुई और तैयारियों को लेकर चर्चा की गई. सूत्रों की मानें तो 17 सितंबर को पीएम वाराणसी में किसी स्कूल में जा सकते हैं. डीरेका मैदान, सिनेमा हॉल या लालपुर स्थित ट्रेड फेसिलिटेशन सेंटर में वह बच्चों से रूबरू भी होंगे और उनके साथ अपने जीवन पर बनी 32 मिनट की डॉक्यूमेंट्री भी देखेंगे. बच्चों के साथ समय बिताने के बाद पीएम पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक और प्रवासी भारतीय सम्मेलन की तैयारियों पर जनपद के अफसरों से भी रूबरू हो सकते हैं. माना जा रहा है कि पीएम कई योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास भी कर सकते हैं.

पीएम के आगमन की प्राथमिक सूचना पर भाजपा नेताओं ने भी तैयारियां शुरू कर दी हैं तो प्रशासन ने कमर कस ली है. सुरक्षा और अन्य बिंदुओं पर मंथन शुरू हो गया है. सूत्रों की मानें तो तैयारियों के लिए मात्र पांच दिन का समय मिलने से अफसरों के हाथ-पांव फूल रहे हैं. बुधवार की शाम सर्किट हाउस में समीक्षा बैठक के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी 17 सितंबर की तैयारियों पर समीक्षा की.