-बाढ़ चौकियों/शरणालयों में खाद्यान्न, पेयजल तथा पशुओं के चारे, दवाइयां तथा अन्य समस्त सुविधायें उपलब्ध कराया जाए.

-बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के निवासियों को जलस्तर की सूचना दिया जाए व उन्हें सुरक्षित स्थान पर ले जाया जाए.

-तहसील स्थित स्थापित बाढ़ कंट्रोल रूम को 24 घंटे सक्रिय रखा जाए. यह अवकाश के दिनों में भी बंद नहीं होगा.

-बाढ़ की स्थिति के अनुसार नाव की आवश्यकता को पूरा करा लिया जाए.

-नरौरा, ओखला, कानपुर बैराज, माताटीला तथा हथिनीकुंड से छोड़े जाने वाले जलस्तर की सूचना लगातार उपलब्ध कराई जाए.

-पंपिंग स्टेशनों का स्थलीय निरीक्षण कर वहां निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित कराएं.

- बाढ़ कंट्रोलरूम का नंबर 0532-2641577, 0532-2641578 तथा टोल फ्री नं0-1077 है. इसका प्रचार प्रसार किया जाए.

-संभावित बाढ़ से निपटने के लिए जिले में पीएसी 42वीं बटालियन, जल पुलिस, एनडीआरएफ, सेना व वायु सेना मौजूद है.