तारीख पर दीवानी में दोनों में हुआ था विवाद, वकीलों ने की पिटाई

थाने पर शिकायत करने पहुंचे थे दोनों पक्ष, आरोपी के बेटों पर आरोप

आगरा. थाने के सामने अधिवक्ता को गोली लगने के बाद जब पुलिस ने फुटेज न होने की बात कही तो स्थिति बिगड़ गई. अधिवक्ताओं की भीड़ ने पुष्पांजलि हॉस्पिटल के सामने जाम लगा दिया. किसी तरह जाम खुला तो दीवानी के सामने वकील जमा हो गए. पुलिस ने मामले में गोली चलाने वाले आरोपियों को कार समेत हिरासत में लिया है. घायल अधिवक्ता की हालत स्थिर बताई गई है.

पहले पिटाई फिर चली गोली

आईआईएमटी कॉलेज संचालक डॉ. एचएस बैरागी पूर्व में दर्ज हुए मुकदमे में स्टे लेकर जमानत कराने गया था. उस दौरान वकीलों से कुछ विवाद हो गया. उस दौरान वकील उस पर टूट पड़े. उसकी जमकर पिटाई की जिससे उससे चोटें आई. जानकारी होने पर सर्किल का फोर्स पहुंच गया. पुलिस उसे किसी तरह छुड़ा कर लेकर आई. इसके बाद उसे जिला अस्पताल भेज दिया.

थाने के सामने मारी गोली

इसी बीच अधिवक्ता पक्ष के लोग थाना न्यू आगरा पहुंच गए. यहां पर पहले से बैरागी के तीनों बेटे और कुछ अन्य कार में मौजूद थे. वकील पुलिस ने मामले को लेकर बात कर रहे थे. एडवोकेट आशुतोष श्रोत्रिय और अन्य साथी थाने के सामने बाहर खड़े थे. उसी दौरान कार से उतर कर एक बेटे ने वकील पर गोली चला दी और तुरंत कार में बैठ कर भाग निकला. इसी के बाद वकीलों में रोष व्याप्त हो गया. वकीलों ने हॉस्पिटल के बाहर जाम लगाया इसके बाद दीवानी के बाहर भी जाम लगाया.

पुलिस ने की अरेस्टिंग

मामले में गंभीर घायल अधिवक्ता के भाई भवतोष श्रोत्रिय ने थाने में तहरीर दी. पुलिस ने मामले में मुख्य आरोपी अभिप्राय शर्मा और उसके भाई अलंकार शर्मा को कार व लाइसेंसी हथियार समेत हिरासत में लिया है. मामले में डॉ. एचएस बैरागी बेटे अनुराग समेत फरार है. पुलिस उसकी तलाश कर रही है.

-------------------