चुनाव के परिणामों से फीकी पड़ी शादी
अमित शाह के बेटे की शादी में बिल्‍कुल शाही इंतजाम था. शादी में राज्य के मुख्यमंत्री, मंत्रियों के अलावा कई केन्द्रीय मंत्री शामिल हुए. एयरपोर्ट से लेकर विवाह स्थल तक पुख्ता पुलिस बंदोबस्त किए गये थे. मेहमानों के लाने ले-जाने के लिए बैटरी ऑपरेटेड कारों की सर्विस हो रही थी.  इतना ही नहीं दक्षिण भारत से 22 ब्राहमण ने इस शादी को सम्‍पन्‍न कराया. इतना सब कुछ होने के बावजूद दिल्ली चुनाव के परिणामों से जय शाह और रिषिता की शादी फीकी पड़ गयी. जिंदगी का ये सबसे खूबसूरत पल उनके लिये बहुत ही मायूसी वाला साबित हुआ. दिल्‍ली चुनाव परिणामों का सर इस शादी पर पूरी तरह से छाया रहा. शादी में पहले से तय वर के घोड़ी पर सवार होने की रस्म कैंसल कर दी गई. बैंड बाजे वालों को भी वापस भेज दिया गया.

क्लब में ही बैठक में मशगूल हो गये
बस इतना ही नहीं हार की खबर मिलने के बाद अमित शाह और बीजेपी के कई राष्ट्रीय नेताओं ने शादी के वेन्यू अहमदाबाद के वाईएमसीए क्लब में ही बैठक में मशगूल हो गये. मंडप के पास ही वीआइपी रूम में की गई इस मीटिंग में राजनाथ सिंह, आनंदीबेन पटेल, पीयूष गोयल और राजीव प्रताप रूडी सहित शामिल हुये. बैठक में इस पर चर्चा की गयी गयी कि दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस की जाये कि नहीं, अमित शाह फोन करके केजरीवाल को बधाई दें कि नहीं. हालांकि इस दौरान यह निर्णय लिया गया कि इस पूरे मामले में नरेंद्र मोदी से सलाह ली जाय.

नरेंद्र मोदी के शामिल होने की उम्‍मीद
हालांकि जय शाह की शादी का रिसेप्‍शन अब 12 फरवरी को गुजरात में किया जाएगा और 15 फरवरी को दिल्‍ली में होना तय हुआ है. इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी के शामिल होने की उम्‍मीद है. वहीं इस शादी समारोह में राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, अनंत कुमार, जे. पी. नड्डा, सुरेश प्रभु, पीयूष गोयल, आदि उपस्‍िथत रहे. इसके साथ ही रघुबर दास और भाजपा के संयुक्त महासचिव वी. सतीश, अशोक सिंघल के साथ ही बाबा रामदेव समेत अनेक छोटी बड़ी हस्‍ितयों ने नवदंपत्‍ित को आशीर्वाद दिया. उद्योग जगत की हस्तियों में मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी, गौतम अडानी और उनकी पत्नी प्रीति ने भी इस शादी में अपनी मौजूदगी दर्ज करायी.

Hindi News from India News Desk

National News inextlive from India News Desk