तिरुवनंतपुरम (पीटीआई)। भयानक बाढ़ का सामना कर चुके केरल में पानी तो काफी घट चुका है लेकिन यहां अब बीमारियों की बाढ़ आ रही है। अब इन दिनों यहां लेप्टोस्पायरोसिस (रैट फीवर) का कहर बरप रहा है। कल यहां सोमवार को रैट फीवर से दो आैर लोगों की मौत हुर्इ है। आकंड़ों के मुताबिक बीते 29 अगस्त से इस बुखार से अब तक नौ लोगों की मौत हो चुकी है।अधिकारियों ने बताया कि राज्य के विभिन्न अस्पतालों में  123 लोगों में इस बीमारी के लक्षण मिले हैं। वहीं कोझिकोड और पथनमतिट्टा जिलों में 71 और लोग इस बीमारी से ग्रस्त पाए गए हैं।

11 रोगियों में डेंगू की पुष्टि हुर्इ
कल सोमवार को भी 13,800 से ज्यादा लोगों ने राज्य के अस्पतालों में विभिन्न बुखारों के लिए अपना इलाज कराया। इनमें 11 रोगियों में डेंगू की पुष्टि हुर्इ। वहीं 21 संदिग्ध मामले पाए गए। स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने कल समीक्षा बैठक के बाद लोगों से कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है। लेप्टोस्पायरोसिस सहित विभिन्न प्रकार बुखार फैल रहे हैं।सभी अस्पतालों में जरूरी दवाओं का भंडारण कर दिया गया है। एेसे में अस्पताल में चिकित्सक को दिखाकर तुंरत उपचार करें। इसके अलावा राज्य में बाढ़ की वजह से फैली गंदगी को हटाने का काम तेजी से हो रहा है।

गुल्‍लक में बचाकर रखे रुपये केरल बाढ़ पीडि़तों के लिए दान करने वाली बच्‍ची को मिली साइकिल

केरल में नेवी ने बंद किया बचाव अभियान, मलबा हटाने में जुटे बीएसएफ के जवान

National News inextlive from India News Desk