-कार से बेटे को पहुंचाने जा रहे थे स्टेशन, उजड़ गई दुनिया

ष्ट॥न्क्कक्त्रन्/क्कन्ञ्जहृन्: वाराणसी के मुख्य कैंट रेलवे स्टेशन के पास मंगलवार को हुई फ्लाईओवर हादसे में सारण के पिता-पुत्र की मौत हो गई, जबकि महिला गंभीर रूप से घायल हो गई. जिसका इलाज ट्रामा सेंटर वाराणसी में चल रहा है. रसूलपुर थाना के टेसुआर गांव निवासी रामबहादुर सिंह व उनकी पत्नी पुत्र वैभव उर्फ जेम्स को कोटा जाने के लिए कार से वाराणसी कैन्ट रेलवे स्टेशन पहुंचाने जा रहे थे तभी आई-टेन कार पर निर्माणाधीन पुल का स्लैब आ गिरा.

कार से बाहर फेंका गई महिला

जिसमें दबकर पिता और पुत्र की घटना स्थल पर ही मौत हो गई. जेम्स कोटा में पढ़ाई करता था. हादसे में पिता-पुत्र की मौत की सूचना मिलते ही गांव में मातमी सन्नाटा छा गया. बताया जाता है कि हादसे के दौरान जब स्लैब कार पर गिरा तो झटके से पत्नी कार से बाहर फेंका गई जबकि पिता-पुत्र उसी में दब गए. पुत्र का शव कुछ देर बाद निकाला गया जबकि पिता का शव देर रात में निकाला गया.

15 दिन पहले हुआ था तबादला

रामबहादुर सिंह 1985 में अतरसन हाईस्कूल से मैट्रिक की परीक्षा पास कर पटना स्थित एएन कॉलेज से +2 व बीएससी की परीक्षा पास किए थे. इसके बाद वे 1991 में वायुसेना में तकनीकी रैंक में चयनित हुए थे. नवम्बर 2010 में वायु सेना से रिटायर्ड होने के बाद ¨सडिकेट बैंक में बतौर क्लर्क सेवा देना शुरू किए. एक पखवाड़ा पहले ही बैंक ने सीनियर मैनेजर पद पर प्रोमोशन देकर समस्तीपुर से वाराणसी तबादला किया था.