agra@inext.co.in
AGRA. कतर की कंपनी में एचआर की पोस्ट पर कार्यरत युवती को झांसे में लेकर गैर समुदाय युवक ने निकाह कर लिया. इसके बाद उसकी पहली पत्‍‌नी के होने का राज खुला. विरोध पर कतर की युवती को मारपीट कर घर से भगा दिया. पीडि़ता ने एसएसपी ऑफिस में कंप्लेन की है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

वीडियो कांफ्रेंसिंग से हुई शादी
हैदराबाद निवासी युवती ने एमबीए किया है. वह कतर में डेढ़ लाख रुपये माह पैकेज पर एक कम्पनी में एचआर के पद पर काम कर रही थी. चार साल पहले उसकी मुलाकात वहां काम करने वाले आगरा, बालूगंज निवासी एक युवक से हुई. दोनों की बातचीत शुरु हो गई. युवक ने बताया कि उसकी पहली पत्‍‌नी मर चुकी है. उसकी एक बच्ची है. युवक के रिश्तेदार ने भी उसे विश्वास दिलाया. झांसा देने के बाद 29 मार्च 2015 में एक मौलवी से वीडियो कांफ्रेसिंग करवा कर निकाह कर लिया. निकाह के बाद सब ठीक चल रहा था. युवती अपने चचेरे भाइयों के निकाह में शामिल होने भारत आई थी. बाद में उसका पति भी हैदराबाद आ गया. पारिवारिक परेशानी बताकर उसे मुम्बई में साथ ले जाकर रहने लगा. कुछ महीनों के बाद वह उसे वहां पर छोड़ कर आ गया.

झूठ बोल कर हड़पा रुपया
मुम्बई में ससुराली आकर मिलते थे. वह बोलते कि पति घर बनवा रहा है. ये बोलकर उससे रुपये लेते रहे. वह उससे करीब पच्चीस लाख रुपये और सोना ले गए. इसके बाद वह कतर लौट गई. अचानक पति की पहली पत्‍‌नी का फोन आया और उसे कहा गया कि तुमसे शादी रुपयों के लिए की है. उसने पति से बोला तो उसने बताया कि वह चुनाव लड़ चुका है. उसके दुश्मन बहुत हैं. किसी ने साजिश की है.

दोस्तों के सामने परोस दिया
राज खुलने के बाद भी युवती साथ रहने के लिए मान गई. इसके बाद पति ने फतेहाबाद रोड स्थित एक होटल में रखा. इसी बीच पति अपने साथ कुछ दोस्तों को साथ लाया. रुपयों जरुरत बोल कर उनसे शारीरिक संबंध बनाने का दबाव बनाने लगा. विरोध पर होटल में मारपीट कर दी. उसने होटल में आना बंद कर दिया. ईद वाले दिन युवती घर पर पहुंच गई. आरोप है कि पूरे परिवार ने उसकी जमकर पिटाई की. युवती के कान का पर्दा फट गया. उसे घर से भगा दिया. युवती ने मामले में एसएसपी से कंप्लेन की है.

पुलिस नहीं कर रही सुनवाई
मामला महिला थाने भेजा गया. आरोप है कि पुलिस मामले में सुनवाई नहीं कर रही है. उसके पति को पूछताछ के लिए थाने नहीं बुलाया. पति की तरफ से उसे धमकियां मिल रही हैं. पति समुदाय विशेष की संस्था में पदाधिकारी है. एक बार वह चुनाव भी लड़ चुका है. मामला फैलने के बाद संडे को पंचायत रखी गई, लेकिन कोई हल नहीं निकला.

युवती के पास पुख्ता सबूत
युवती के पास निकाहनामा, पति का पहली पत्‍‌नी को दिया गया तलाकनामा और कई ऑडियो रिकॉर्डिंग और वाट्सएप चैट के स्क्रीन शॉट हैं. इसके बाद भी कार्रवाई नहीं हो रही.

पति ने पेश की अपनी सफाई
मामले में पति ने युवती पर पहले से शादीशुदा होने का आरोप लगाया. साथ ही उसके पास बेटा होने की बात बोली. उसका आरोप है कि वह रुपया वसूलने के लिए आरोप लगा रही है.