-शहरी महिलाओं को छोड़ सभी विधानसभा में महिलाएं वोट डालने में आगे

-पिपराइच में सबसे ज्यादा महिलाओं ने डाले वोट

GORAKHPUR: गोरखपुर लोकसभा चुनाव में आधी आबादी मेल वोटर्स पर भारी रही. वह न सिर्फ घरों से निकलकर पोलिंग बूथ्स तक पहुंची, बल्कि पोलिंग परसेंटेज बढ़ाने में भी उन्होंने अहम योगदान किया. सबसे ज्यादा पोलिंग परसेंटेज के साथ ही महिलाओं की भागीदारी वाली विधानसभा भी पिपराइच ही रही, जहां 58 फीसद महिलाओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. यहां टोटल पोलिंग परसेंटेज 53.92 रहा. यहां से 50.13 परसेंट मेल वोटर्स ही पोलिंग बूथ्स तक पहुंचे.

शहर की फीमेल्स में इंटरेस्ट नहीं

गोरखपुर लोकसभा उप चुनाव में वोटिंग परसेंटेज काफी डाउन रहा. इसमें भी सबसे कम पोलिंग गोरखपुर शहर से हुई. शहर की बात करें तो यहां न तो मेल वोटर्स में इंटरेस्ट दिखा और न ही फीमेल वोटर्स में, यही वजह रही कि शहर का पोलिंग परसेंटेज कुल 38.05 फीसद ही पहुंच सका. इसमें 40.52 परसेंट मेल वोटर्स पोलिंग बूथ्स तक पहुंचे, जबकि महज 35.09 परसेंट फीमेल्स ही वोट डालने के लिए पोलिंग बूथ्स तक पहुंची.

यह रहा पोलिंग परसेंटेज

विधानसभा टोटल मेल फीमेल

कैंपियरगंज - 50.62 47.34 54.59

गोरखपुर रूरल - 48.62 48.35 48.94

सहजनवा - 49.93 46.65 54.02

पिपराइच - 53.92 50.13 58.61

गोरखपुर अर्बन 38.05 40.52 35.09

बॉक्स -

48.36 परसेंट वोटर्स ने किया मताधिकार का इस्तेमाल

गोरखपुर लोकसभा उप चुनाव में चुनाव आयोग की ओर से फाइनल डाटा जारी कर दिया गया. इसमें 48.36 परसेंट वोटर्स ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया है. इलेक्शन विभाग की ओर से जारी आंकड़ों पर नजर डालें तो सबसे ज्यादा पोलिंग परसेंटेज पिपराइच का रहा, जहां 54.35 वोटर्स ने मताधिकार का इस्तेमाल किया है, जबकि गोरखपुर शहर में 38.10 फीसद वोटर्स ही मताधिकार का इस्तेमाल करने के लिए पहुंचे. इसके अलावा फाइनल आंकड़ों पर नजर डालें तो कैंपियरगंज में 50.8, गोरखपुर रूरल में 48.52 और सहजनवा में 49.93 परसेंट वोटर्स ने वोटिंग राइट का यूज किया.