JAMSHEDPUR: ऑल इंडिया डेमोक्रेटिक स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन (एआइडीएसओ) की ओर से छात्रों की विभिन्न समस्याओं को लेकर गुरुवार को जमशेदपुर के आमबगान से विशाल जुलूस निकाला गया. छात्र-छात्राएं इस दौरान सरकार की शिक्षा नीति के विरोध में नारे लगाते रहे. कॉलेजों में सभी छात्रों के नामांकन की गारंटी की मांग कर रहे थे. जुलूस पूर्वी सिंहभूम के उपायुक्त कार्यालय पहुंच प्रदर्शन में तब्दील हो गया. इस धरना-प्रदर्शन में पूर्वी सिंहभूम जिले के विभिन्न प्रखंडों के छात्र-छात्राएं शामिल हुए. प्रदर्शन के बाद उपायुक्त को विद्यार्थियों की समस्या को लेकर ज्ञापन सौंप गया. ज्ञापन में शामिल मांगों पर सकारात्मक विचार का आग्रह प्रतिनधिमंडल ने किया. कहा कि यह छात्र-छात्राओं के हित और भविष्य के लिए जरूरी है. प्रतिनिधिमंडल को सकारात्मक पहल का भरोसा मिला. इस कार्यक्रम में प्रदेश सचिव समर महतो, अध्यक्ष आशा रानी पाल, सोहन महतो, श्रीमंत बारिक, युघिष्ठिर कुमार, प्रवीण महतो, सुशील गिरी, सत्य रंजन, पूर्णिमा टुडू, ¨रकी, सोनी सेनगुप्ता, प्रतिमा कुईला सहित सैकड़ों छात्र-छात्राएं शामिल थे.

ये हैं प्रमुख मांगें

-रिक्त पदों पर शिक्षकों की बहाली.

-कोल्हान विश्वविद्यालय में अनियमित सत्र को नियमिति करना.

-सेमेस्टर सिस्टम वापस लिया जाए.

-स्कूलों की विलय नीति को वापस लिया जाए.

-झारखंड के बाहर पढ़ने वाले छात्रों को छात्रवृति दी जाए और छात्रवृत्ति की राशि को बढ़ाया जाए.

-पोटका व पटमदा के लिए सरकारी बस की व्यवस्था की जाए.

-को-ऑपरेटिव कॉलेज के लिए साकची से बस की व्यवस्था की जाए.

-सभी छात्रों के नामांकन की गारंटी हो.

-प्राइवेट स्कूलों के मनमानी फीस वृद्धि पर रोक लगाई जाए.

-पोटका, पटमदा में डिग्री कॉलेज की व्यवस्था की जाए.

-छात्र-छात्राओं को बस भाड़ा में 50 प्रतिशत रियायत दी जाए.