-सिविल एंक्लेव के निर्माण के चलते अभी काफी काम बाकी

-25 फरवरी को नोडल डायरेक्टर एयरपोर्ट करेंगे समीक्षा

बरेली- सिविल एंक्लेव यानी नाथ नगरी एयर टर्मिनल से जल्द से जल्द उड़ान के प्रयास किए जा रहे हैं, ताकि चुनाव से पहले इसका उद्घाटन हो सके. जिस तरह की तेजी चल रही है, उससे एयरफोर्स के रनवे से प्लेन उड़ाकर उद्घाटन तो कर दिया जाएगा लेकिन कई काम अभी बाकी हैं, जिनसे पब्लिक को अभी उड़ान की सुविधा मिलना आसान नहीं होगा. आगामी 25 फरवरी को नोडल डायरेक्टर एयरपोर्ट बरेली आकर एयरपोर्ट के कामों की समीक्षा करेंगे और उसके बाद ही निर्धारित हो सकेगा कि एयरपोर्ट का उद्घाटन कराया जाएगा और कब से पब्लिक के लिए फ्लाइट शुरू कर दी जाएगी.

अभी यह काम हैं बाकी

टैक्सी वे का निर्माण- एयर टर्मिनल से रनवे तक प्लेन को ले जाने के लिए टैक्सी वे का निर्माण किया जा रहा है. टर्मिनल की ओर टैक्सी वे का निर्माण हो चुका है और अंदर काम चल रहा है. टैक्सी वे का निर्माण 25 फरवरी तक पूरा होने की उम्मीद है.

टेलीफोन की सुविधा नहीं

एयरपोर्ट के लिए टेलीफोन और इंटरनेट की सुविधा जरूरी है. इसके लिए शासन से 54 लाख का बजट तो जारी हो चुका है लेकिन अभी तक लाइन बिछाने का काम नहीं हो सका है. डोंगल का इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन इससे परमानेंट सॉल्यूशन नहीं होने वाला है.

पोल शिफ्टिंग नहीं हुई

एयर टर्मिनल के आसपास बिजली के पोल हैं. इन पोल को उखाड़कर लाइन को अंडरग्राउंड डाला जाएगा, ताकि उड़ान में किसी तरह की कोई दिक्कत न हो. इसके लिए 1 करोड़ 54 लाख का बजट भी आ गया है लेकिन अभी काम बाकी है.

मेन रोड बनाई जा रही है

एयर टर्मिनल को जाने वाली रोड भी अभी नहीं बनी है. जब कुछ दिनों पहले टेक्निकल टीम आयी थी तो उसे कीचड़ से होकर जाना पड़ा था. पीडब्ल्यूडी की ओर से मिट्टी डलवा दी गई लेकिन अभी रोड बनना बाकी है.

अभी सीवर लाइन नहीं

पीने के पानी और पानी की निकासी का भी काम अभी नहीं हुआ है. पीने के पानी के इंतजाम के लिए तो 20 लाख का बजट पास हो गया है लेकिन ड्रेनेज सिस्टम के लिए दो दिन पहले ही 2.3 करोड़ का बजट बनाकर भेजा गया है.

एयरलाइंस से होगी मीटिंग

एयरपोर्ट के अधिकारी जल्द ही एयरलाइंस से उड़ान को लेकर मीटिंग करेंगे. इस संबंध में एयरलाइन को लेटर लिखा गया है. पब्लिक की सेफ्टी और सिक्योरिटी का रिव्यू टेक्निकल टीम करेगी. निर्माणाधीन बिल्डिंग की भी सिक्योरिटी की जांच की जाएगी.

यह काम हो चुके हैं पूरे

-एयर टर्मिनल का पोर्टा केबिन लगभग बनकर तैयार हो चुका है

-एयरफोर्स का रनवे इस्तेमाल होगा, इसलिए उड़ान में कोई दिक्कत नहीं

-एयर टर्मिनल की सिक्योरिटी के लिए पुलिस की ट्रेनिंग हो चुकी है और सिक्योरिटी रिपोर्ट भी ओके है

जल्द उड़ान के प्रयास किए जा रहे हैं. सभी विभागों को भी 25 फरवरी तक काम पूरे करने के निर्देश हैं. 25 फरवरी को समीक्षा के बाद ही उड़ान की तारीख निर्धारित की जाएगी.

एसके सिंह, नोडल डायरेक्टर एयरपोर्ट