lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : अखिलेश यादव बोले पीएम नरेंद्र मोदी शिलान्यासों से अपनी खोई लोकप्रियता और विश्वसनीयता को बचाना चाहते है। भाजपा सरकार की तमाम योजनाओं की घोषणाएं हवाई हैं क्योंकि अभी तक उनका काम जमीन पर कहीं दिखाई नहीं दिया है। किसान परेशान है, नौजवान बेरोजगारी से त्रस्त है, जनसामान्य महंगाई की मार झेल रहा है और महिलाएं तथा बच्चियां तक दुष्कर्म की शिकार हो रही है। प्रधानमंत्री की तमाम घोषणाएं और उनका प्रायोजित भव्य स्वागत मुख्यमंत्री इसलिए करा रहे हैं क्योंकि वे सपा सरकार की योजनाओं के मुकाबले की एक भी योजना अब तक लागू नहीं कर पाए हैं। उनके भाषणों में सपा पर इसलिए हमले होते हैं क्योंकि भाजपा की नफरत और समाज को तोडऩे वाली सांप्रदायिक रीति-नीति का वही मुकाबला करने में सक्षम है।

चुनावी हड़बड़ाहट का नतीजा

वहीं कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता सैफ अली नकवी ने कहा कि एक महीने में 6 बार प्रधानमंत्री का यूपी आना चुनावी हड़बड़ाहट और सीएम योगी की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करता है। जुमलों की बारिश फिर शुरू हो गयी और झूठ बोलने की प्रतिस्पर्धा योगी और मोदी सरकार के बीच हो रही है। हैरत तब होती है जब स्मार्ट सिटी में यूपी का कोई शहर नहीं पुरस्कृत होता। कनार्टक में देवगिरि, पुणे, जयपुर और बनारस में स्मार्ट सिटी के नाम पर 600 मंदिर तोड़े गये जिससे लोगों की आस्था पर ठेस पहुंची है। दरअसल इंवेस्टर्स समिट अपने सूट-बूट वाले दोस्तों को भूमि अधिग्रहण कानून के तहत मुफ्त में जमीनें देने की एक सुनियोजित साजिश है। शिलान्यास और लेाकार्पण सिर्फ  चुनाव में जनता की आंखों में धूल झोंकने के लिए है।

यूपी में पीएम ने किया 60 हजार करोड़ की 81 परियोजनाओं का शिलान्यास

'ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी ' : पीएम बोले उद्यमियों संग खड़े होकर फोटो खिंचाने में नहीं डरता

National News inextlive from India News Desk