कानपुर। दुनिया में ऐसे बहुत क्रिकेटर हैं जो चर्चा में भले न रहें लेकिन काम ऐसे कर जाते हैं जिन्हें लोग सालों याद करते हैं। इंग्लैंड के दिग्गज ओपनर बल्लेबाज एलिस्टर कुक के अचानक संन्यास लेने के फैसले से उनके फैंस मायूस जरूर होंगे। कुक का कहना है कि वह भारत के खिलाफ ओवल में सीरीज का आखिरी टेस्ट खेलते ही क्रिकेट का अलविदा कह देंगे। 33 साल के कुक के नाम टेस्ट क्रिकेट में कई रिकॉर्ड दर्ज हैं, ऐसा ही एक अनोखा रिकॉर्ड उन्होंने दो महीने पहले बनाया था तब वह 24 मई को पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट खेलने उतरे थे। दरअसल वो कुक का 153वां टेस्ट मैच था और वह दुनिया के पहले ऐसे क्रिकेटर हैं जिन्होंने लगातार इतने टेस्ट खेले। इससे पहले यह करिश्मा ऑस्ट्रेलिया के एलन बॉर्डर ने किया था, उन्होंने भी लगातार 153 टेस्ट खेले थे, मगर अब ये रिकॉर्ड संयुक्त रूप से कुक और बॉर्डर के नाम हो गया। बाएं हाथ के पूर्व ऑस्ट्रेलियार्इ बल्लेबाज एलन ने कुक की इस सफलता पर बधार्इ भी दी थी।
700 दिनों से बिना रुके मैच खेल रहे इंग्लैंड के एलिस्टर कुक आखिरी टेस्ट के बाद लेंगे संन्यास
2 साल से कोर्इ टेस्ट नहीं किया है मिस
बाएं हाथ के स्टाइलिश बल्लेबाल एलिस्टर कुक इंग्लिश क्रिकेट टीम के ओपनर बल्लेबाज हैं। कुक ने लगातार टेस्ट खेलने की शुरुआत 2015 से की थी। वह करीब पिछले 765 दिनों से टेस्ट मैच खेल रहे, इस दौरान इंग्लैंड ने जितने भी टेस्ट खेले, कुक उस टीम का हिस्सा रहे हैं। हैरानी की बात है कि इस दौरान कुक के न तो कोर्इ चोट लगी और न ही उन्होंने रेस्ट किया। बिना रुके वह 153 टेस्ट मैच खेल गए।

2014 से नहीं खेला वनडे

एलिस्टर कुक ने अपने क्रिकेटिंग करियर की शुरुआत 2006 में की थी। पहले तो उन्हें सभी फॉर्मेट में खेलने का मौका मिला, मगर धीरे-धीरे उनकी पहचान एक टेस्ट क्रिकेटर के तौर पर होने लगी। 33 साल के इस खिलाड़ी ने पूरे करियर में सिर्फ चार टी-20 मैच खेले, जिसमें उनके नाम कुल 61 रन दर्ज हैं। वहीं वनडे की बात करें तो कुक ने 92 मैचों में 36.40 की औसत से 3204 रन बनाए हैं। जिसमें पांच शतक और 19 अर्धशतक शामिल हैं। एलिस्टर ने अपना आखिरी टी-20 2009 में और आखिरी वनडे 2014 में खेला था।
700 दिनों से बिना रुके मैच खेल रहे इंग्लैंड के एलिस्टर कुक आखिरी टेस्ट के बाद लेंगे संन्यास
टेस्ट क्रिकेट में कोहली से आगे हैं कुक

टेस्ट क्रिकेट में एलिस्टर कुक कर्इ बड़े-बड़े दिग्गजों से आगे निकल गए हैं। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली भी कुक से बहुत पीछे हैं। कुक के नाम जहां 160 टेस्ट मैचों में 12,254 रन दर्ज हैं तो वहीं विराट अभी तक 70 टेस्ट खेलकर सिर्फ 6098 रन बना पाए हैं। शतक की बात करें तो एलिस्टर कुक के बल्ले से 32 सेंचुरी निकल चुकी हैं, वहीं विराट के खाते में 23 शतक हैं।

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज हारने के बाद भी नंबर 1 बनी रहेगी टीम इंडिया, जानिए कैसे

जानिए किसने तय की भारत बनाम इंग्लैंड के बीच जीत और हार

Cricket News inextlive from Cricket News Desk