-बारह दिन में सामने आ गए चार मरीज, मलेरिया भी उफान पर

-एएमए ने जनता को किया आगाह, बताए लक्षण व बचाव के तरीके

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: गड्ढों और जलभराव ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है. इसके चलते डेंगू सहित मलेरिया ने एक के बाद एक लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है. सीजन को देखते हुए इलाहाबाद मेडिकल एसोसिएशन ने जनता को आगाह करते हुए गाइडलाइन जारी कर दी है. इसमें लक्षण व बचाव के तरीके बताए गए हैं. बता दें कि पिछले बारह दिनों में डेंगू के मरीजों की जिले में संख्या बढ़कर चार हो गई है.

आधा दर्जन अभी जांच में

अगस्त शुरू होते ही डेंगू के मरीजों की संख्या चार हो गई है. इनमें से दो जिले के हैं और दो मरीज गुजरात और मध्य प्रदेश से आए हुए बताए जा रहे हैं. इसके अलावा तकरीबन आधा दर्जन सैंपल जांच के लिए मेडिकल कॉलेज लैब में भेजे गए हैं. इनकी रिपोर्ट सोमवार को आएगी. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि प्राइवेट नर्सिग होम्स में भर्ती सस्पेक्टेड मरीजों की पहचान की जा रही है. उनकी जानकारी मांगी गई है.

बीमारी जानेंगे तभी बचेंगे

उधर, संक्रामक रोगों के फैलाव को देखते हुए इलाहाबाद मेडिकल एसोसिएशन द्वारा रविवार को सेमिनार का आयोजन कर लोगों को जागरुक किया गया. इसमें प्रो. खुरशीद परवीन ने बताया कि डेंगू वायरस से फैलने वाला खतरनाक रोग है और जो एडीज मच्छर के काटने से फैलता है. डॉ. पूनम गुप्ता ने लक्षणों व उपचार के तरीकों की जानकारी भी दी. इस मौके पर डॉ. अशोक अग्रवाल, डॉ. आरकेएस चौहान, डॉ. जीएस सिन्हा, डॉ. आशुतोष गुप्ता, डॉ. राजेश मौर्या आदि उपस्थित रहे. संचालन डॉ. आशुतोष गुप्ता ने किया.

बताए डेंगू के लक्षण

-तेज बुखार

-मांसपेशियों व जोड़ों में भयंकर दर्द

-सिरदर्द

-आंखों के पीछे दर्द

-जी मचलाना

-उल्टी, दस्त और त्वचा पर लाल रंग का दाना

-नाक, कान, मुंह व अन्य अंगों से ब्लीडिंग

बचाव

-घर के आसपास पानी के एकत्र नहीं होने दें

-कूलर, गमले का पानी रोजाना बदलें

-शरीर के पूर्ण ढंकने वाले कपड़े पहने

-मच्छर रोधी क्रीम, स्प्रे व क्वॉयल का उपयोग करें

-बच्चों को फुल बांह और पैर की ड्रेस पहनाकर स्कूल भेजें

मलेरिया ने भी बांधा दम

केवल डेंगू नहीं शहर में मलेरिया ने भी दम बांध लिया है. इससे बचाव जरूरी हो गया है. जुलाई में अकेले 118 मलेरिया के मरीज सामने आए. अगस्त में इनकी संख्या अधिक होने की संभावना जताई जा रही है. अधिकारियों का कहना है कि शहर में गड्ढे और जलभराव से बचना होगा. इनमें मच्छर के लार्वा पनप सकते हैं. जिससे लोगों को होशियार रहना होगा.

डेंगू के मरीज सामने आ रहे हैं. इस सीजन में मच्छरों से बचाव जरूरी है. शुरुआती लक्षण प्रकट होने पर तत्काल डॉक्टर से सलाह लेकर जांच करानी चाहिए. उचित समय पर इलाज से इन बीमारियों से बचा जा सकता है.

-केपी द्विवेदी, जिला मलेरिया अधिकारी, इलाहाबाद