ताराचंद हॉस्टल में खुद हीटर पर पका रहे थे खाना

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: पुलिस प्रशासन और इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा सोमवार को डॉ। ताराचन्द छात्रावास का औचक निरीक्षण किया गया। दोपहर में हुए निरीक्षण में चार छात्रों के कक्ष में हीटर पाया गया तथा इसका प्रयोग भी प्रमाणित हुआ है। जिसके बाद चारों छात्रों को नोटिस जारी की गई है। कहा गया है कि यह छात्रावास नियमावली के विरुद्ध और अनुशासनहीनता की कोटि में आता है। चारों से कहा गया है कि अपना स्पष्टीकरण 07 मई की शाम कुलानुशासक कार्यालय में स्वयं उपस्थित होकर लिखित रूप से दें। बताएं कि उन्होंने ऐसा कृत्य क्यों किया और यह भी बताएं कि उन्हें छात्रावास एवं विवि से क्यों न निलंबित करते हुए निष्कासित किए जाने की संस्तुति कर दी जाए?

एक माह का अग्रिम शुल्क जमा करें

उधर, सभी छात्रावासों के वार्डेन एवं सुपरिटेंडेंट को जारी किए गए निर्देश में डीएसडब्ल्यू प्रो। हर्ष कुमार ने कहा है कि छात्रावास नियमावली के प्रावधानों के अनुसार छात्रावास के कक्षों में खाना बनाना पूर्णतया वर्जित है। छात्रावास में हुई हिंसक वारदातों के बाद पुलिस और जिला प्रशासन की टिप्पणी है कि इन हिंसक वारदातों में कक्ष में भोजन बनाने की प्रक्रिया का गहरा हांथ है। अत: छात्रों को मेस में खाना अनिवार्य किया जाए। मेस के संचालन के लिए आवश्यक है कि अन्त:वासी कम से कम एक माह का मेस शुल्क अग्रिम जमा करें।

अधीक्षकों को निर्देशित किया गया है कि छात्रावास में पांच या उससे अधिक छात्रों की एक समिति बनाएं तथा भोजन का साप्ताहिक मीनू बनाकर मेस का संचालन किया जाए। मेस संचालन में बाधा पहुंचाने वाले तथा छात्रावास में अपने कक्ष में भोजन बनाने वाले अन्त:वासियों के विरुद्ध अनुशासनहीनता की कार्रवाई की जाएगी।

प्रो। हर्ष कुमार, डीएसडब्ल्यू एयू

इन छात्रों को दी गई नोटिस

.1. राम लला पटेल पुत्र प्रमोद कुमार पटेल

- कक्ष संख्या- 4/9

- कक्षा- एमए प्रथम वर्ष

2. अंकित कुमार पुत्र सुदामा

- कक्ष संख्या- 4/10

- कक्षा- बीएससी तृतीय वर्ष

3. आदित्य कुमार कनौजिया पुत्र विरेन्द्र कुमार कनौजिया

- कक्ष संख्या- 2/40

- कक्षा- बीएससी तृतीय वर्ष

4. अभिमन्यु यादव पुत्र राधेश्याम यादव

- कक्ष संख्या- 2/41

- कक्षा- एमए प्रथम वर्ष