patna@inext.co.in
PATNA : आनंद कुमार पर बन रही फिल्म का एक सीन हाल ही में वायरल हुआ है. इस सीन में ऋतिक रोशन साइकिल पर पापड़ बेचते हुए नजर आ रहे हैं. इस सीन के बाद आनंद कुमार की गरीबी के किस्से कहे जाने लगे. हर किसी के जुबान पर यह कहानी आ गई कि आनंद कुमार ने पापड़ बेचकर पढ़ाई की और आज गरीबों का मसीहा बनकर उनके करियर को संवार रहे हैं. इस कहानी से यह बात तो साबित होती है कि आनंद कुमार पुश्तैनी अमीर नहीं है. दूसरी बात यह भी साफ है कि वे बिना फीस के गरीब बच्चों को पढ़ाते हैं. लेकिन अब सवाल यह है कि जब उनके पास आय का कोई ऐसा बड़ा साधन नहीं है तो हर साल उनके भाई, मां, पत्नी और भाई की पत्नी करोड़ों की प्रॉपर्टी कैसे खरीद रहे हैं.

सुनाते हैं गरीबी की कहानी
एक टीवी चैनल को दिए गए साक्षत्कार में आनंद कुमार ने खुद कहा था कि वे बहुत गरीबी के माहौल में पढ़े लिखे हैं. उनके पिता की मौत के बाद जब घर खर्च पर मुश्किल आई तो उनकी मां पापड़ बनाने लगीं और वह भाई प्रणव के साथ उसे बैग में भरकर बेचते थे. लेकिन आज उनकी मां के पास 22 प्लॉट हैं.

4 साल में 3 करोड़ की प्रॉपर्टी
दैनिक जागरण के हाथ लगे दस्तावेजों के अनुसार गरीबों को फ्री में पढ़ाने वाले सुपर 30 के संस्थापक आनंद कुमार के परिवार में वर्ष 2013 से 2017 में बड़ी सम्पत्ति आई है. परिवार के चार सदस्यों के नाम प्लॉट, जमीन मकान व फ्लैट खरीदे व एग्रीमेंट कराए गए हैं. इसकी कीमत 3.14 करोड़ रुपए है.

आनंद की पत्‍‌नी के नाम एक ही प्लॉट
आनंद की पत्‍‌नी रितु रश्मि के नाम से एक प्लॉट है. फुलवारी शरीफ के विशुनुपर पकड़ी में 38 लाख का एक प्लॉट उनके नाम से है, जिसे वर्ष 2016 में लिया गया है.

भाई के नाम एक फ्लैट एक प्लॉट
आनंद कुमार के भाई प्रणव के नाम एक सगुना मोड के पास स्नेह छवि बाटिका अपार्टमेंट में एक फ्लैट और दानापुर के पास सगुना विजय बिहार में प्लॉट है.

प्रणव की पत्नी
- आंनद के भाई प्रणव की पत्नी रश्मि प्रकाश के नाम भी कई प्लॉट है.
- चितकोहरा में दो प्लॉट,
- जक्कनपुर में दो प्लॉट और
- सुगना में 1 प्लॉट है.

मां के नाम हैं 22 प्लॉट
आनंद कुमार की मां के नाम से 22 प्लॉट हैं. आप भी देखिए किस किस इलाके में कितने प्लॉट हैं.
- मसौढ़ी पुनपुन के जलालपुर में 2 प्लाट.
- मसौढ़ी पुनपुन के बसुहर में 4 प्लाट.
- चांदपुर में 6 प्लाट.
- फुलवारी शरीफ के छिपुरा में 3 प्लाट.
- मसौढ़ी के पुनपुन के पोथाई में 5 प्लाट.
- पटना के चांदपुर बेला में 2.

गरीबों को पढ़ाने वाले के घर वालों की सम्पत्ति
गरीब बच्चों को फ्री में पढ़ाने का दावा कर पूरे विश्व में सहानुभूति लेने वाले आनंद कुमार का परिवार हर साल प्रॉपर्टी खरीद रहा है. यह हम नहीं कह रहे रजिस्ट्री कार्यालय के दस्तावेज बोल रहे हैं. उनके भाई प्रणव कुमार, मां जयंती देवी, पत्नी रितु रश्मी और प्रणव की पत्नी रश्मि प्रकाश ने पिछले 4 साल में कितनी प्रॉपर्टी खरीदी है उसका ब्यौरा आपके सामने हैं.
super 30 exposed : पांच साल में आनंद के परिवार ने बनाई सुपर प्रॉपर्टी


Super 30 exposed : आनंद का 'सुपर फ्रॉड'

Super 30 exposed : जानें सुपर 30 का सच


Super 30 exposed : आनंद कभी नहीं बताते कौन हैं लकी 30 स्टूडेंट्स, जो करेंगे IIT क्वालिफाई