धार्मिक भावनाओं को पहुंचाई ठेस
आंध्र प्रदेश की एक अदालत ने हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आरोप में टीम इंडिया के कैप्टन महेंद्र सिंह धोनी के नाम गिरफ्तारी वारंट जारी किया है. अनंतपुर की स्थानीय अदालत ने बीते तीन मौकों पर अदालत में पेश होने के आदेश का पालन नहीं करने पर धोनी के नाम गिरफ्तारी वारंट जारी किया. अदालत ने पुलिस से कहा कि वो धोनी को गिरफ्तार करके 16 जुलाई तक अदालत में पेश करे.

विष्णु के रुप में किया पेश

ये मामला एक मैगजीन के फ्रंट पेज पर पब्लिश चित्र से जु़ड़ा है. एक बिजनेस मैगजीन ने अप्रैल 2013 के संस्करण के फ्रंट पेज पर एक चित्र पब्लिश किया था, जिसमें धोनी को भगवान विष्णु के रूप में पेश किया गया था और उस चित्र के ऊपर शीर्षक दिया गया था-'गॉड ऑफ बिग धोनी.' धोनी ने इस चित्र में विभिन्न कंपनियों के प्रोडक्ट्स के साथ-साथ एक जूता भी पकड़ रखा है.

याचिका

विश्व हिंदू परिषषद के स्थानीय नेता वाई श्याम सुंदर ने इसे लेकर इस साल फरवरी में एक याचिका दायर की थी. सुंदर की दलील थी कि धौनी ने हिंदुओं की भावनाओं को आहत किया है. धौनी के खिलाफ इसी तरह की याचिकाएं दिल्ली, पुणे व अन्य शहरों में भी दायर की गई हैं.

Cricket News inextlive from Cricket News Desk