GAMAHARIYA: कांड्रा स्थित आधुनिक पावर कंपनी के सामने गत सात मई की शाम हुई फ्लाई ऐश व्यवसायी अनिल गोप की हत्या मामले में पुलिस ने चार अपराधियों को गिरफ्तार किया. गिरफ्तार अपराधियों में कांड्रा बस्ती निवासी विकास दास, कदमा के शास्त्रीनगर निवासी विजय कृष्ण पांडेय, कांड्रा बस्ती निवासी धीरज प्रसाद तथा टेल्को निवासी अमित कुमार सिंह शामिल हैं. उसके पास से एक लोडेड देशी कट्टा, दो जिंदा कारतूस, तीन मोबाइल फोन समेत एक स्कार्पियो वाहन जब्त किया है.

मुख्य आरोपी है फरार

इस हत्याकांड का मुख्य अभियुक्त कांड्रा निवासी बप्पा पात्रा और सादा चन्द्र दास अभी भी फरार है. कांड्रा थाना परिसर मे आयोजित प्रेसवार्ता में एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर एसडीपीओ अविनाश कुमार के नेतृत्व में छापामारी दल का गठन किया गया था. उन्होंने बताया कि पिंड्राबेड़ा-बाड़ामारी गांव के बीच सुनसान सड़क पर स्कार्पियो (जेएच05बीवाई/8230) से भाग रहे इन अपराधियों को पकड़ा गया. एसपी ने बताया कि आधुनिक पावर प्लांट में ठेकेदारी का वर्चस्व को लेकर इस घटना को अंजाम दिया गया. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार युवक कांड्रा निवासी विकास दास ने स्वीकार किया कि बप्पा पात्रा के कहने पर सादा चंद्र दास के साथ मिलकर अनिल गोप की उसने हत्या की है. अपराधियों ने बाइक पर सवार होकर हत्या की घटना को अंजाम दिया था.

की जा रही है छापेमारी

एसपी ने बताया कि स्कार्पियो से विकास दास अपनी पत्नी के साथ क्षेत्र से बाहर भागने का प्रयास कर रहा था. इसी दौरान उसे दबोच लिया गया. उन्होंने बताया कि फरार बप्पी पात्रो एवं सादा चंद्र दास की गिरफ्तारी के लिए सघन छापामारी जारी है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधी विकास दास समेत अन्य युवकों का अपराधिक इतिहास रहा है. उसके खिलाफ कांड्रा, चौका, चांडिल, सरायकेला व कदमा में भी कई अपराधिक मामला दर्ज है. गिरफ्तार विजय पांडेय के खिलाफ आदित्यपुर थाना में तथा धीरज प्रसाद के खिलाफ कांड्रा थाना में मामला दर्ज है. इस दौरान छापेमारी दल में शामिल एसडीपीओ अविनाश कुमार, कांड्रा थाना प्रभारी अशोक कुमार, गम्हरिया थाना प्रभारी जय प्रकाश राणा, कान्ड्रा के पुअनि सत्यदेव सिंह, सअनि रणधीर कुमार सिंह, विद्यार्थी कुमार समेत कई सशस्त्र बल के जवान उपस्थित थे.