- 23 मार्च से नई दिल्ली के रामलीला मैदान में सत्याग्रह करने का किया ऐलान

DEHRADUN: समाजसेवी अन्ना हजारे ने 23 मार्च से नई दिल्ली के रामलीला मैदान में लोकपाल बिल पारित कराने और किसानों के लिए सत्याग्रह करने का ऐलान किया है. अन्ना ने कहा कि वह एक बार फिर से आंदोलन करेंगे और यह उनके जीवन की आखिरी लड़ाई होगी.

भ्रष्टाचार रोकने में केंद्र सरकार नाकाम

मंगलवार को रायवाला पहुंचे समाज सेवी अन्ना हजारे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि केंद्र सरकार किसानों के लिए कुछ नहीं कर रही है. भ्रष्टाचार रोकने में सरकार नाकाम रही. उन्होंने कहा कि किसानों को उपज का सही मूल्य नहीं मिल रहा है. इस कारण किसान आत्महत्या करने को मजबूर हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के अभी तक के कार्य समाज हित में नहीं हैं. किसान की समस्याओं की तरफ ध्यान नहीं दिया जा रहा है. सरकार उद्योगपतियों को बढ़ाने के प्रयास में जुटी है, लेकिन अब सरकार के इस खेल को खत्म करना होगा. इसके लिए पूरा देश उनके साथ 23 मार्च से दिल्ली के रामलीला मैदान में देश का दूसरा सबसे बड़ा आंदोलन करने जा रहा है. इस बार देश के किसानों को कर्ज मुक्त बनाने और लोकपाल बिल पारित कराने की लड़ाई लड़ी जाएगी. इसके लिए वह देश के 20 राज्यों में लोगों से मिल चुके हैं. अभी वह संगठन को मजबूत कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस बार का आंदोलन निर्णायक होगा और यह उनके जीवन की अंतिम लड़ाई होगी.