14

मई से शिक्षक भर्ती के लिए ऑन लाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया की शुरुआत

15

मई आवेदन शुल्क जमा करने की अंतिम तिथि

16

मई ऑन लाइन आवेदन पूर्ण करने की अंतिम तिथि

21

मई तक ऑन लाइन आवेदन में त्रुटियों में सुधार की अंतिम तिथि

27

मई को लिखित परीक्षा का आयोजन

------------

सहायक अध्यापक भर्ती में एक और फर्जीवाड़ा आया सामने

बेसिक शिक्षा परिषद ने 20 अभ्यर्थियों का नियुक्ति पत्र रोका

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: सूबे के परिषदीय स्कूलों में सहायक अध्यापक के पदों पर भर्ती के लिए लिखित परीक्षा को लेकर चल रहा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. मूल्यांकन में गड़बड़ी के विवादों के बीच अब परीक्षा में फर्जीवाड़ा भी सामने आ गया. 23 ऐसे अभ्यर्थी भी लिखित परीक्षा में पास हो गए, जो परीक्षा में शामिल ही नहीं हुए थे. परिणाम आने के बाद फर्जीवाड़ा करने वाले 23 अभ्यर्थियों ने जिला आवंटन के लिए आवेदन भी कर दिया. विभागीय अधिकारियों को इसकी जानकारी हुई तो उनके होश उड़ गए. तत्काल संबंधित जिलों को ऐसे अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र देने पर रोक लगाने का निर्देश दिया गया.

14 जिलों में हुआ था आवंटन

फर्जीवाड़ा कर नौकरी हासिल करने की जुगत में लगे ऐसे अभ्यर्थियों के नियुक्ति पत्र को रोकने के लिए बेसिक शिक्षा परिषद के उप सचिव की तरफ से निर्देश जारी किया गया है. इसमें मैनपुरी, अलीगढ़, बाराबंकी, सीतापुर, देवरिया, कुशीनगर, महाराजगंज, शाहजहांपुर, मुरादाबाद, जौनपुर, चित्रकूट, बुलंदशहर, गोंडा व मेरठ जिले शामिल हैं. बेसिक शिक्षा परिषद में उप सचिव स्कंद शुक्ला की तरफ से इन जिलों के बीएसए को निर्देश दिया गया है कि आपके जनपद को ऐसे कतिपय अभ्यर्थियों की सूची प्रेषित की जा रही है, जिनको आपका जनपद नियुक्ति हेतु आवंटित हुआ है. अग्रिम आदेश तक इन अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र देने पर रोक लगाई गई है. सूत्रों की मानें तो अभी पूरे प्रकरण की जांच करायी जा रही है. जांच के बाद विभाग की तरफ से आगे की कार्रवाई की जाएगी.