शिक्षक भर्ती लिखित परीक्षा मूल्यांकन में लगातार सामने आ रही खामियां

स्कैन कापी में रिजल्ट से अधिक मिले अभ्यर्थी को नंबर

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: परिषदीय स्कूलों में सहायक अध्यापक पदों के लिए आयोजित लिखित परीक्षा के परिणाम आने के बाद नित नए मामले सामने आ रहे हैं. बुधवार को फिर एक मामला सामने आया. इसमें अभ्यर्थी को स्कैन कापी में मिले नम्बर रिजल्ट में मिले नम्बर से दो गुने से ज्यादा निकले. हाथरस के यतीश कुमार सेंगर ने सहायक अध्यापक लिखित परीक्षा दी थी. परीक्षा का रिजल्ट जारी होने के बाद यतीश को कुल 41 अंक मिले. यतीश ने स्कैन कापी की मांग की. बुधवार को जब यतीश को लिखित परीक्षा के कापी की स्कैन प्रति मिली तो उनके होश उड़ गए. यतीश को परीक्षा नियामक से मिली स्कैन प्रति में 91 अंक मिले हैं. जबकि रिजल्ट में 41 अंक ही दिख रहे हैं.

कई साथ हुई ऐसी गड़बड़ी

हाथरस के यतीश कुमार की तरह ही अन्य कई अभ्यर्थियों ने ऐसा ही आरोप लगाया है. बुधवार को परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय पहुंचे अभ्यर्थियों ने कहा कि उनकी कापियों की स्कैन प्रति मिलने के बाद भी ऐसे ही मामले सामने आयेंगे. गौरतलब है कि यतीश कुमार सेंगर की तरह ही अन्य कई अभ्यर्थियों के मामले में भी मूल्यांकन में हुई गड़बड़ी सामने आयी थी. इसमें अम्बेडकर नगर के ओबीसी अभ्यर्थी अंकित वर्मा को रिजल्ट में 22 अंक मिले थे. जिससे वह फेल हो गया था. जब अंकित की स्कैन कापी सामने आयी तो उसमें 122 अंक मिले. ठीक इसी प्रकार एससी वर्ग के अभ्यर्थी मनोज कुमार को रिजल्ट में तो 19 अंक हासिल हुए, लेकिन जब परीक्षा नियामक से उनकी कापी की स्कैन प्रति सामने आयी तो उसमें 98 अंक दिख रहे थे.